गर्मी से राहत नहीं, कल से बढ़ेगा तापमान, 9 से 12 मई के बीच 44 डिसे तक पहुंचने के आसार

ग्वालियर, । मई का पहला सप्ताह राहत भरा रहा है। बादल, बूंदाबांदी व आंधी के कारण तापमान सामान्य स्थिति में रहा, लेकिन दूसरा सप्ताह राहत भरा नहीं रहेगा। 9 से 12 मई के बीच शहर के तापमान में बढ़ोतरी होगी। अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस या उससे अधिक दर्ज हो सकता है। 12 मई के बाद नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होगा और बंगाल की खाड़ी में तूफान भी आ रहा है। इससे नमी आना शुरू हो जाएगी। यह नमी हल्की राहत देगी।

अप्रैल लू के साथ विदा हुआ था, लेकिन मई में गर्मी ज्यादा ताकत नहीं दिखा सकी है। 1 मई से लेकर 7 मई के बीच तापमान सामान्य स्थिति में रहा है। अप्रैल जैसी गर्मी का सामना नहीं करना पड़ा। शनिवार को पश्चिमी विक्षोभ जम्मू कश्मीर के ऊपर सक्रिय था, जिसके असर से शहर में सुबह से हल्के बादल छाए हुए थे। इस कारण गर्मी रफ्तार नहीं पकड़ पाई। दोपहर में आसमान साफ रहा, लेकिन हवा में नमी होने की वजह से अधिकतम तापमान 41.8 डिसे रिकार्ड हुआ। तापमान सामान्य रहा। इससे गर्मी की चुभन नहीं बढ़ सकी।

दूसरे सप्ताह में ऐसा रहेगा मौसमः

चक्रवातीय घेरा विदर्भ के ऊपर सक्रिय है। इससे बंगाल की खाड़ी से हल्की नमी आ रही है। 8 मई को शहर की हवा में हल्की नमी रहेगी, जिससे तापमान ज्यादा नहीं बढ़ सकेगा। 42 से 43 डिग्री सेल्सियस के बीच रिकार्ड होगा।

-9 मई से हवा का रुख राजस्थान की ओर से हो जाएगा। तापमान में तेजी से बढ़ोत्तरी होगी। अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच जाएगा, जिससे लू की दस्तक होगी। राजस्थान की गर्म हवा की गति 4 से 6 किमी प्रतिघंटा रहेगी। न्यूनतम तापमान 25 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज होगा, जिससे रात में भी गर्मी बढ़ेगी।

बंगाल की खाड़ी का तूफान मौसम को सबसे ज्यादा प्रभावित करेगा। इसके असर से हवा का रुख पूर्वी हो जाएगा। हवा में नमी आएगी और गर्मी बढ़ने पर बादल छाने के साथ-साथ आंधी की स्थिति बनेगी।

तापमान की स्थितिः

-अधिकतम तापमान-41.8 डिसे

न्यूनतम तापमान-25.3 डिसे

-उत्तर पश्चिमी हवा की गति-6 किमी प्रतिघंटा

पारे की चाल

समय तापमान

05:30 26.8

08:30 31.2

11:30 39.0

14:30 41.4

17:30 39.6

पिछले सात दिनों का तापमान

तारीख तापमान

1 43.2

2 43.3

3 41.4

4 42.8

5 40.7

6 40.5

7 41.8

वर्जन-

9 से 12 मई के बीच ग्वालियर चंबल संभाग में तापमान बढे़गा। तीन दिन तक गर्मी का सामना करना पड़ेगा। उसके बाद तापमान घटना शुरू हो जाएगा। पश्चिमी विक्षोभ व बंगाल की खाड़ी के तूफान की वजह से नमी आना शुरू हो जाएगी

Generating...
Connect with us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!