7 दिन में 47.3 गुना बढ़े संक्रमित:बाहर से आने वालों के कारण ग्वालियर में इंदौर, भोपाल, जबलपुर की तुलना में तेजी से फैला कोरोना

ग्वालियर में कोरोना की रफ्तार प्रदेश के अन्य महानगरों इंदौर, भोपाल व जबलपुर के मुकाबले काफी तेज है। बीते 7 दिन में ग्वालियर में 47.3 गुना संक्रमित बढ़े हैं। 31 दिसंबर को सिर्फ 3 संक्रमित मिले थे, लेकिन 6 जनवरी को 142 केस सामने आए, जबकि प्रदेश में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित इंदौर फिर भोपाल में हैं।

यहां हालात बेहद खराब है। ग्वालियर में एक्टिव केस 7 दिन में 8 से बढ़कर 435 तक पहुंच गए हैं। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के लिए यही सबसे बड़ी चिंता है। ग्वालियर में 47.3 गुना केस बढ़े हैं जबकि इंदौर में बीते सात दिन में 9.41 गुना, भोपाल में 9.11 गुना और जबलपुर में 11.5 गुना संक्रमित बढ़े हें। इंदौर, भोपाल व जबलपुर ऐसे शहर हैं जहां दिसंबर के मध्य से ही केस आना शुरू हो गए थे, लेकिन ग्वालियर में केस मिलना दिसंबर को आखिरी सप्ताह से शुरू हुए थे। इसलिए यहां सबसे तेजी से कोरोना संक्रमण फैला है।
बाहर से आने वाले लेकर आए कोरोना
– ग्वालियर में कोरोना संक्रमण की अचानक रफ्तार बढ़ने का सबसे बड़ा कारण बाहर से आने वाले हैं। हाल ही के 15 में ग्वालियर में विदेश नीदरलैंड, लंदन दुबई से लौटने वाले करीब 15 लोग संक्रमित आए हैं। इसके अलावा देश के अन्य शहर जहां संक्रमण अधिक है जैसे दिल्ली,मुम्बई, मेरठ, चंडीगढ़, ऋषिकेश आदि ऐसी जगह हैं जहां से काफी संख्या में लोग लौटने के बाद संक्रमित निकले हैं। यह बाहर से लौटने वालों से भी अचानक संक्रमण दर उछली है।

चार महानगरों की 7 दिन की स्थिति
ग्वालियर: 47.3 गुना बढ़े संक्रमित

तारीखसंक्रमितसंक्रमण दर31दिसंबर03.10 %1 जनवरी04.17 %2 जनवरी09.44 %3 जनवरी22.89 %4 जनवरी582.44%5 जनवरी892.63%6 जनवरी1424.12 %

इंदौर: 9.41 गुना बढ़े संक्रमित

तारीखसंक्रमितसंक्रमण दर31दिसंबर62.85 %1 जनवरी801.16 %2 जनवरी1101.58 %3 जनवरी1371.83 %4 जनवरी3193.91%5 जनवरी5125.43%6 जनवरी5846.68 %

भोपाल: 9.11 गुना बढ़े संक्रमित

तारीखसंक्रमितसंक्रमण दर31दिसंबर27.48 %1 जनवरी42.88 %2 जनवरी54.96 %3 जनवरी691.19 %4 जनवरी921.58%5 जनवरी1692.81%6 जनवरी2464.14 %

जबलपुर: 11.5 गुना बढ़े संक्रमित

7 दिन में 47.3 गुना बढ़े संक्रमित:बाहर से आने वालों के कारण ग्वालियर में इंदौर, भोपाल, जबलपुर की तुलना में तेजी से फैला कोरोना

ग्वालियर5 घंटे पहले



फाइल फोटो

ग्वालियर में कोरोना की रफ्तार प्रदेश के अन्य महानगरों इंदौर, भोपाल व जबलपुर के मुकाबले काफी तेज है। बीते 7 दिन में ग्वालियर में 47.3 गुना संक्रमित बढ़े हैं। 31 दिसंबर को सिर्फ 3 संक्रमित मिले थे, लेकिन 6 जनवरी को 142 केस सामने आए, जबकि प्रदेश में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित इंदौर फिर भोपाल में हैं।

यहां हालात बेहद खराब है। ग्वालियर में एक्टिव केस 7 दिन में 8 से बढ़कर 435 तक पहुंच गए हैं। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के लिए यही सबसे बड़ी चिंता है। ग्वालियर में 47.3 गुना केस बढ़े हैं जबकि इंदौर में बीते सात दिन में 9.41 गुना, भोपाल में 9.11 गुना और जबलपुर में 11.5 गुना संक्रमित बढ़े हें। इंदौर, भोपाल व जबलपुर ऐसे शहर हैं जहां दिसंबर के मध्य से ही केस आना शुरू हो गए थे, लेकिन ग्वालियर में केस मिलना दिसंबर को आखिरी सप्ताह से शुरू हुए थे। इसलिए यहां सबसे तेजी से कोरोना संक्रमण फैला है।
बाहर से आने वाले लेकर आए कोरोना
– ग्वालियर में कोरोना संक्रमण की अचानक रफ्तार बढ़ने का सबसे बड़ा कारण बाहर से आने वाले हैं। हाल ही के 15 में ग्वालियर में विदेश नीदरलैंड, लंदन दुबई से लौटने वाले करीब 15 लोग संक्रमित आए हैं। इसके अलावा देश के अन्य शहर जहां संक्रमण अधिक है जैसे दिल्ली,मुम्बई, मेरठ, चंडीगढ़, ऋषिकेश आदि ऐसी जगह हैं जहां से काफी संख्या में लोग लौटने के बाद संक्रमित निकले हैं। यह बाहर से लौटने वालों से भी अचानक संक्रमण दर उछली है।

चार महानगरों की 7 दिन की स्थिति
ग्वालियर: 47.3 गुना बढ़े संक्रमित

तारीखसंक्रमितसंक्रमण दर31दिसंबर03.10 %1 जनवरी04.17 %2 जनवरी09.44 %3 जनवरी22.89 %4 जनवरी582.44%5 जनवरी892.63%6 जनवरी1424.12 %

इंदौर: 9.41 गुना बढ़े संक्रमित

तारीखसंक्रमितसंक्रमण दर31दिसंबर62.85 %1 जनवरी801.16 %2 जनवरी1101.58 %3 जनवरी1371.83 %4 जनवरी3193.91%5 जनवरी5125.43%6 जनवरी5846.68 %

भोपाल: 9.11 गुना बढ़े संक्रमित

तारीखसंक्रमितसंक्रमण दर31दिसंबर27.48 %1 जनवरी42.88 %2 जनवरी54.96 %3 जनवरी691.19 %4 जनवरी921.58%5 जनवरी1692.81%6 जनवरी2464.14 %

जबलपुर: 11.5 गुना बढ़े संक्रमित

तारीखसंक्रमितसंक्रमण दर31दिसंबर08.15 %1 जनवरी01.01 %2 जनवरी04.07 %3 जनवरी21.39 %4 जनवरी23.43%5 जनवरी701.35%6 जनवरी921.80 %

http://thenewslight.com/TNL48626
Connect with us

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!