ताउते के बाद यास चक्रवात क्या यूपी में मचाएगा तबाही? 40 किलोमीटर की रफ्तार से तेज हवाएं चलने के आसार

पिछले सप्ताह अरब सागर से विकसित हुए ताउते चक्रवातीय तूफान द्वारा तबाही मचाने के बाद अब बंगाल की खाड़ी में यास चक्रवातीय तूफान विकसित हो रहा है। भारतीय मौसम विज्ञान केन्द्र की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार आगामी 24-25 मई को यास चक्रवातीय तूफान के सक्रिय होने के आसार बन रहे हैं। 

इसके असर के चलते आगामी 24 व 25 मई को उत्तर प्रदेश में 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने के आसार हैं। इसी क्रम में दक्षिण पश्चिमी मानसून ने अब अण्डमान निकोबार द्वीप समूह में हलचल शुरू कर दी है। लखनऊ स्थित मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक जे.पी.गुप्ता का कहना है कि वैसे तो भारत में मानसून पहली जून को केरल के रास्ते आता है मगर इस बार चक्रवातीय तूफान और अन्य सहयोगी मौसमी हालात के मद्देनजर केरल में 29 या 30 मई को मानसून आ सकता है। 

उ.प्र. में समय से पहले मानसून के आगमन की सम्भावना से इनकार करते हुए उन्होंने कहा कि यूपी में 20 जून के आसपास मानसून आने की सामान्य तारीख है और फिलहाल इसके प्रदेश में समय से पहले सक्रिय होने के आसार नहीं हैं। पिछले चौबीस घण्टों में प्रदेश के विभिन्न अंचलों में गरज-चमक के साथ कहीं बारिश हुई तो कहीं बौछारें पड़ीं। 

इस दरम्यान से अधिक तीन सेण्टीमीटर बारिश महामायानगर के सांसी में दर्ज की गयी। इसके अलावा बुलंदशहर, महामायानगर के सादाबाद, गौतमबुद्धनगर के दादरी, बलरामपुर के तुलसीपुर में दो-दो, अलीगढ़ के गभाना, मथुरा के छाता, मथुरा के ही मणि, अलीगढ़ के इग्लास, बुलंदशहर के खुर्जा, फिरोजाबाद के टूण्डला, मथुरा के गोवर्धन, गोरखपुर, श्रावस्ती के काकरधारीघाट, गोरखपुर के बर्डघाट में एक-एक सेण्टीमीटर बारिश रिकार्ड की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *