क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में भूचाल: Dogecoin, Bitcoin, Ethereum की कीमतों में गिरावट 

मंगलवार को चीन से खबर आई थी कि चीनी सरकार ने वित्तीय संस्थानों और पेमेंट कंपनियों को क्रिप्टोकरेंसी लेनदेन से संबंधित सर्विस प्रदान करने से बैन कर दिया है और निवेशकों को क्रिप्टो ट्रेडिंग के खिलाफ चेतावनी भी दी है।


बुधवार क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने वालों के ब्लैक फ्राइडे (Crypto Black Friday) से कम साबित नहीं हो रहा है। पिछले दो दिनों से गिरावट देखने वाली क्रिप्टो मार्केट में आज शाम अचानक जबरदस्त गिरावट देखने को मिली है और Bitcoin (BTC), Ethereum (ETH), Dogecoin (DOGE), Shiba Inu (SHIB) समेत कई बड़े और लोकप्रिय क्रिप्टो कॉइन सर के बल गिर गए हैं। क्रिप्टोकरेंसी निवेशकों को Dogecoin के बढ़ने की काफी उम्मीद थी, लेकिन खबर लिखने तक डॉजकॉइन की कीमत (Dogecoin Price in India) 28 रुपये के आसपास दिखाई दे रही थी। इतना हीं नहीं, बिटकॉइन की कीमत (Bitcoin Price in India) खबर लिखने तक लगभग 23 लाख रुपये और इथेरियम की कीमत (Ethereum Price in India) लगभग 1.42 लाख रुपये पर थी। क्रिप्टोकरेंसी मार्केट के क्रैश (Cryptocurrency Market Crash) होने के पीछे कई कारण बताए जा रहे हैं।

मंगलवार को चीन से खबर आई थी कि चीनी सरकार ने वित्तीय संस्थानों और पेमेंट कंपनियों को क्रिप्टोकरेंसी लेनदेन से संबंधित सर्विस प्रदान करने से बैन (China Banned Cryptocurrency Payments) कर दिया है और निवेशकों को क्रिप्टो ट्रेडिंग (Crypto Trading) के खिलाफ चेतावनी भी दी है। ऐसे में अब चीन के बैंक और ऑनलाइन पेमेंट चैनल जैसे संस्थान ग्राहकों को क्रिप्टोकरेंसी में रजिस्ट्रेशन, ट्रेडिंग, सेटलमेंट और क्लीयरिंग जैसी सर्विस प्रदान नहीं कर सकते। यह भी आज क्रैश हुई मार्केट का एक बड़ा कारण हो सकता है।

इसके अलावा हाल ही में दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी एलन मस्क (Elon Musk) ने भी अपने ट्वीट के जरिए मार्केट में काफी कंफ्यूज़न पैदा की। पहले मस्क ने ट्वीट कर घोषित किया कि उनकी इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी Tesla भुगतान के रूप में Bitcoin लेगी और एक हफ्ते से भी कम समय में उन्होंने इस फैसले से बाहर कियाऔर ट्वीट किया कि पर्यावरणीय प्रभाव की वजह से कंपनी फिलहाल बिटकॉइन नहीं लेगी। इसके बाद उन्होंने Dogecoin निर्माता के साथ मिलकर एनर्जी आर्किटेक्चर को बेहतर और कुशल बनाने की बात की, जिससे निवेशकों की रूची डॉजकॉइन की तरफ बढ़ने लगी। इसी तरह एलन के एक के बाद एक ट्वीट के साथ निवेशकों की दुविधा बढ़ गई और कहीं न कहीं आज ऐसे मार्केट के क्रैश होने के कई कारणों में से एक कारण यह भी हो सकता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *