विधायक संजय शुक्ला बोले – मेरा दावा सही साबित हुआ, मंत्री का परिवार इंजेक्शन बेच रहा, CM तत्काल अपने मंत्री से इस्तीफा लें

रेमडेसिविर की कालाबाजारी में प्रभारी मंत्री की पत्नी के ड्राइवर का नाम आने के बाद राजनीति गरमा गई है। कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने आरोप लगाया है कि मंत्री का परिवार इंजेक्शन बेच रहा है। उन्होंने सिलावट से तत्काल इस्तीफे की मांग की है। वहीं, मंत्री सिलावट का कहना है कि गोविंद ट्रेवल एजेंसी का ड्राइवर है, उससे हमारा कोई लेना-देना नहीं है। उसने ये इंजेक्शन कहां से लिए ये जांच का विषय है। पुलिस निष्पक्षता से जांच कर कार्रवाई करे।
कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने कहा कि यह इंदौर के लिए बड़े शर्म की बात है। 10-12 दिन पहले मैंने आरोप लगाया था कि प्रभारी मंत्री जी के परिवार द्वारा इंजेक्शन बेचे जा रहे हैं। परसों रात को विजय नगर चौराहे से पुनीत अग्रवाल पकड़ाया है। उसने बताया कि तुलसी सिलावट की पत्नी के ड्राइवर के साथ वे गाड़ी चलाते हैं। वह लगातार उसी से इंजेक्शन लेकर बेच रहा है। इससे प्रूफ होता है कि इंजेक्शन बेचे जा रहे हैं।जो इंजेक्शन जनता को फ्री में मिलने चाहिए थे। उनसे हजारों, लाखों, करोड़ों रुपए कमाए। यह घटना होने के बाद अब लगता है कि इस थाने के टीआई को दो दिन के भीतर सस्पेंड कर दिया जाएगा। जैसे दो दिन पहले नाबालिग से हुए गैंगरेप के मामले में रात में सदर बाजार टीआई को लाइन अटैच कर दिया गया। टीआई को सस्पेंड करना यह भाजपा की कथनी और करनी है।

मैं मुख्यमंत्री से मांग करता हूं कि आपने कहा था कि रेमडेसिविर बेचते पाए जाने वाले पर तत्काल आरोपी पर रासुका की कार्रवाई की जाएगी, वह करें। इसके अलावा रेपिस्ट पर भी तत्काल कार्रवाई करने को कहा था। आपके नेता रेपिस्ट को छुड़वा रहे हैं। टीआई को सस्पेंड करवा रहे हैं। अब विजय नगर टीआई के साथ भी ऐसा ही होने वाला है। आपके सपनों के शहर में उसमें पुलिसवालों पर सामत आ गई है। आरोपी यदि सही बोल देते हैं तो आपके नेता उन्हें हटवा देते हैं। कब तक यह चलेगा।हमें महामारी से लड़ने की जरूरत है, लेकिन आपके नेता किसी और काम में लगे हुए हैं। किसी गरीब परिवार के पास एक इंजेक्शन पकड़ाया तो आपने उस पर रासुका लगा दी। अब मंत्री के पत्नी के ड्राइवर को पकड़ा है। अब आप किस पर रासुका लगाएंगे। मेरा सीएम से निवेदन है कि तुलसी सिलावट से तत्काल इस्तीफा लेना चाहिए। क्योंकि मामले में उनके परिवार का नाम आया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *