बेटे की शादी के बाद चल रहा था सामूहिक भोज, पुलिस ने रुकवाया, प्रकरण दर्ज

ग्वालियर, । कोरोना संक्रमण फैलने से रोकने के लिए शादी समारोह व तेरहवीं भोज पर जिला प्रशासन ने प्रतिबंध लगा रखा है। जिला प्रशासन व पुलिस प्रतिदिन कार्रवाई कर रही है। इसके बाद भी लोग वैवाहिक आयाेजन एवं तेहरवीं कार्यक्रम में सामूहिक भोज दे रहे हैं। हारकोटासीर में प्रेमनारायण रजक के घर पर रविवार को बेटे की शादी के बाद चल रहे प्रीतिभोज में जनकगंज थाना पुलिस पहुंच गई। पुलिस को देखकर भोज में शामिल लोगों में हड़कंप मच गया। लोग खाने की प्लेट रखकर दाएं-बाएं हो गए। पुलिस ने सामान जब्त कर प्रीतिभोज देने वाले प्रेमनारायण के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है।

पुलिस को रविवार रात सूचना मिली कि हारकोटासीर निवासी प्रेमनारायण रजक के यहां काफी संख्या में नाते-रिश्तेदार जमा हैं और प्रीतिभोज चल रहा है। कुछ दिन पहले ही उनके बेटे की शादी हुई है। इसी उपलक्ष्य में भोज का आयोजन किया गया है। इस सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। लोग बगैर दो गज की दूरी का पालन कर भोज का आनंद ले रहे थे। कई लोग बगैर मास्क लगाए बतियाते नजर आए। पुलिस के पहुंचते ही वहां हड़कंप मच गया। पुलिस ने प्रीतिभोज बंद कराकर खाने का सामान जब्त कर लिया। जनकगंज थाना पुलिस ने प्रेमनारायण के खिलाफ कलेक्टर के आदेश का उल्लंघन का मामला दर्ज किया है। वहीं शनिवार की रात पुलिस ने साईं कृपा मैरिज गार्ड में बेटे की शादी का प्रीतिभोज रुकवाकर कार्रवाई की थी। इंदरगंज थाना पुलिस ने पारदी मोहल्ले में तेहरवीं में भीड़ जमा होने पर प्रकरण दर्ज किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *