शिवपुरी में सीटी स्कैन मशीन खराब होने से जनप्रतिनिधियों के झूठे दावों की पोल खुल रही है

– सरकारी जिला अस्पताल की मशीन खराब होने से मरीज परेशान 

शिवपुरी,  शिवपुरी जिले में इस समय कोरोना काल में स्वास्थ्य सेवाएं भगवान भरोसे चल रही हैं। इस कोरोना संकट में इस समय सबसे ज्यादा जिस मशीन की जरूरत है वह सीटी स्कैन मशीन है लेकिन जिला अस्पताल में यह मशीन पिछले कई दिनों से खराब है। सीटी स्कैन मशीन खराब होने की सूचना जिला अस्पताल के प्रबंधन को भी है लेकिन कोई भी इस समस्या को हल करने के लिए प्रयास नहीं कर रहा। सीटी स्कैन मशीन खराब होने से मरीज व उनके परिजन परेशान हैं। इस समय कोरोना काल चल रहा है और अधिकतर मरीज कोरोना के लक्षण और पॉजिटिव होने के बाद सीटी स्कैन मशीन से एक्सरे करा रहे हैं। ऐसे में अब जिला अस्पताल की मशीन खराब होने से लोग परेशान हैं। 

पीपी मॉडल पर स्थापित है मशीन

जिला अस्पताल में यह सीटी स्कैन मशीन पीपी मॉडल पर स्थापित है। जयपुर की एक प्राइवेट कंपनी को यहां पर यह काम दिया गया है। बताया जा रहा है कि पिछले पांच-छह दिन से यह मशीन खराब है। यहां बीपीएल परिवारों को रियायती दर पर  सीटी स्कैन की सुविधा मिलती है। वहीं अन्य मरीजों के लिए 3 हजार रुपए की रेट निर्धारित है। 

प्राइवेट में कराना पड़ रही जांच

पिछले कुछ दिनों से जिला अस्पताल की सीटी स्कैन मशीन खराब होने से लोगों को प्राइवेट मशीन से जांच करानी पड़ रही है। जिसके चलते कई मरीजों और उनके अटेंडरों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कोरोना काल में सीटी स्कैन मशीन खराब होने से मरीज परेशान हैं। लोगों का कहना है कि इस महामारी के संकट के समय अस्पताल प्रबंधन के अधिकारियों को इस पर ध्यान देना चाहिए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *