हादसा: रेमडेसिविर इंजेक्शन ले जा रहा मध्यप्रदेश सरकार का विमान ग्वालियर में दुर्घटनाग्रस्त

रेमडेसिविर इंजेक्शन ले जा रहा मध्य प्रदेश सरकार का एक विमान ग्वालियर हवाईअड्डे पर बृहस्पतिवार रात उतरते वक्त तकनीकी खराबी के कारण फिसलकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस विमान के पायलट व सह-पायलट को हादसे में मामूली चोटें आई हैं।

ग्वालियर जिले के पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने  बताया कि हादसा ग्वालियर के महाराजपुर हवाईअड्डे पर बृहस्पतिवार रात करीब साढ़े आठ बजे हुआ। उन्होंने कहा कि यह विमान उतरते वक्त रनवे से थोड़ा सा फिसल गया।

सांघी ने बताया कि पायलट और सह पायलट को मामूली चोटें आई हैं। वे दोनों सुरक्षित हैं और इंजेक्शन भी सुरक्षित हैं।

मध्य प्रदेश सरकार ने रेमडेसिविर इंजेक्शनों की प्रदेश में चल रही कमी के चलते जल्द से जल्द कोविड-19 के मरीजों को यह इंजेक्शन मुहैया कराने के लिए इस विमान को सेवा में लगाया था।

आखिर लेंडिंग के समय क्योंदुर्घटनाग्रस्त हुआ विमान?

घटना रॉयत लगभग पौने दस बजे की है। मप्र सरकार का विमान रेमदेसीबर इंजेक्शन लेकर नागपुर से उड़ा था । उड़ते समय ही उसका एक पहिया इंदौर में ही गिर गया लेकिन पायलट को पता नही चला जबकि पायलट ने बताया कि विमान इंदौर से उड़ा और जब विमान ने ग्वालियर के एयरपोर्ट पर लेंडिंग की तो विमान होचकोले खाने लगा । वहां फायरब्रिगेड और आपात दस्ते ने तत्काल मोर्चा संभाला और पायलट ने सूझबूझ से लेंडिंग कराई । इसमें विमान में आग लगने से बच गई लेकिन कुछ हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया जबकि विमान में बैठे

पायलट एसएम अख्तर औऱ शिवशंकर जायसवाल और भोपाल के एक नायाब तहसीलदार दिलीप द्विवेदी को चोटें आई ।

इस घटना की खबर मिलते ही कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह और पुलिस अधिकारी तत्काल ही मौके पर पहुंच गए क्योंकि वे रेमदेसीबर इंजेक्शन लेने वहां जा ही रहे थे । कलेक्टर तीनो घायलों को लेकर सीधे जयारोग्य चिकित्सालय के ट्रॉमा सेंटर पहुंचे । कलेक्टर ने बताया कि प्लेन क्रैश नही हुआ बल्कि लेंडिंग के समय दुर्घटनाग्रस्त हुआ है । सूत्रों के अनुसार दुर्घटना अर्ली लेंडिंग के कारण हुई जिससे वह रनवे पर अरेस्ट वेरियर में उलझ गया और दुर्घटना हो गई ।  यह रनवे से 200 मीटर पहले महाराजपुरा एयरबेस पर पलटा । प्रशासन का दावा है कि विमान से आये रेमेडेसीबर के सभी 71 बॉक्स सुरक्षित है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *