बढ़ेगी टेंशन, होगा हिंसक टकराव… अमेरिकी खुफिया रिपोर्ट में भारत, पाकिस्तान और चीन को लेकर दावा

अमेरिका की एक खुफिया रिपोर्ट में भारत का पड़ोसी देशों चीन और पाकिस्तान के साथ रिश्ते को लेकर भविष्यवाणी की गई है। इसमें कहा गया है कि भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध तो नहीं होने जा रहा है, लेकिन दोनों देशों के बीच संकट और गहरे होंगे और टकराव की नौबत बन सकती है। इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि पीएम मोदी की अगुआई में भारत पाकिस्तान के उकसावे पर सैन्य कार्रवाई करने के लिए पहले से ज्यादा तत्पर है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि एलएसी से कुछ सैनिकों की वापसी के बावजूद भारत और चीन के बीच अभी तनाव बरकरार है।

न्यूज एजेंसी की ओर से इस रिपोर्ट के कुछ अंश जारी किए गए हैं। इनमें कहा गया है, ”परमाणु शक्ति संपन्न दोनों पड़ोसी मुल्कों में तनाव बढ़ने से टकराव का जोखिम बढ़ सकता है। कश्मीर में हिंसक अशांति और आतंकवादी हमलों की वजह से इस तरह की नौबत आ सकती है।” पाकिस्तान के साथ रिश्ते बिगड़ने की भविष्यवाणी ऐसे समय पर की गई है जब दोनों देशों में सामान्य रिश्तों की बहाली को लेकर कुछ शुरुआती कदम उठाए गए हैं।

खुफिया रिपोर्ट में भारत और चीन के बीच हिंसक टकराव का आकलन भी किया गया है। इसमें कहा गया है, ”भारत और चीन के बीच अधिक निरंतर हिंसक टकराव संभावित हैं। दोनों देशों की ओर से कुछ सैनिकों को पीछे लेने के बावजूद सीमा पर तनाव अधिक है।” इस टकराव के लिए चीन को दोषी बताते हुए कहा गया है, ”विवादित सीमा इलाकों में मई 2020 से चीन की मौजूदगी की वजह से दशकों में सबसे गंभीर टकराव हुआ है और इसकी वजह से 1975 के बाद पहली हिंसक झड़प हुई।”

रिपोर्ट में कहा गया है कि मध्य फरवरी के बाद दोनों देशों के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी है और दोनों पक्ष विवादित सीमा के कुछ इलाकों से सैनिक, हथियार और उपकरण पीछे ले जा रहे हैं। गौरतलब है कि भारत और चीन के बीच पिछले साल से एलएसी पर तनाव है और पिछले साल जून में लद्दाख के गलवान घाटी में हिंसक झड़प हो चुकी है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *