ग्वालियर में कोरोना विस्फोट जांरी, जाने आज कितने संक्रमित निकले?

ग्वालियर में कोरोना संक्रमण अब बेकाबू होता जक रहा है । कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा निरन्तर ऊपर की तरफ जा रहा है । आज मंगलवार को कोरोना विस्फोट का सिलसिला लगातार जारी रहा । जीआर मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजिकल लैब में आज हुई जांचों में  557 नए कोरोना संक्रमित निकले । यह आंकडा महज 1955 सेम्पल की जांच से निकला जबकि 46 लोग एंटीजन टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए । इस तरह अब तक 603 पॉजिटिव आ चुके है जो कल के आंकड़े से ज़्यादा तथा इसमें निजी लेब में हुईं जांच शामिल नही है। आशंका जताई जा रही है कि इन्हें मिलाकर संक्रमितों का आंकड़ा और बढ़ सकता है ।

मध्यप्रदेश में कोरोना की रफ्तार अब बेकाबू होती जा रही है। हालत ये है कि अब ग्वालियर भी कोरोना के मामले में प्रदेश में तीसरे नंबर पर आ गया था। ऐसे में आज आनन-फानन में जिला प्रशासन और क्राइसिस मैनेजमेन्ट की बैठक में एक बड़ा फैसला लिया है। जिसके चलते आगामी 15 अप्रैल को सुबह छह बजे से “कोरोना कर्फ्यू” लागू हो जाएगा। दरअसल बीते सप्ताह से ग्वालियर शहर में कोरोना संक्रमण तेज़ी से पैर पसार रहा है। हर रोज औसतन पांच सौ पॉजिटिव निकल रहे है। जबकि मौतों का आंकड़ा भी बहुत बढ गया है। इसके चलते अब चिकित्सा सेवाएं भी चरमराने लगीं है। इससे पहले 60 घंटे का लॉकडाउन प्रदेश सरकार ने किया था। लेकिन इससे भी बेकाबू होते हालात नियंत्रित नही हुए…. तो आज कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता में हुई…. बैठक में सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, विधायक प्रवीण पाठक सहित अन्य लोगों की मौजूदगी में यह निर्णय लिया गया कि सात दिन का कोरोना कर्फ्यू लगाया जाए। दरअसल राज्य में मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही संसाधन खत्म होते जा रहे हैं। इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर में श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कार के लिए भी इंतजार करना पड़ रहा है। चिताएं ठंडी होने से पहले ही दूसरे शवों का अंतिम संस्कार किया जा रहा है। हालत ये है… ग्वालियर में सैंपल देने वाला हर तीसरा व्यक्ति पॉजिटिव मिल रहा है। 24 घंटे में 576 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं, जबकि 1,741 सैंपल की जांच हुई है। प्रदेश में सबसे ज्यादा संक्रमण दर 33% यहीं पर है। सिर्फ पांच दिन में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 20,000 से बढ़कर 22,000 के पार हो गया है। एक्टिव केस 2,939 हो गए हैं। वहीं सोमवार को 50 जगहों पर माइक्रो कंटेनमेंट जोन और 3 वार्डों के 25 मोहल्ला और कॉलोनियों को 19 अप्रैल तक कंटेनमेंट जोन बना दिया गया। सोमवार शाम को जिला प्रशासन ने सभी धार्मिक स्थलों और संस्थानों में आम लोगों की एंट्री पर रोक लगा दी। कोचिंग क्लासेस बंद करने का आदेश भी दे दिया गया है। वहीं कलेक्टर ओर सांसद ने कोरोना कर्फ्यू का समर्थन किया है। लेकिन विधायक प्रवीण पाठक का कहना है…. ये कोरोना रोकने का काई विकल्प नही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *