भूलने की बीमारी हो सकती है हाइपरटेंशन की तरफ इशारा, हो जाएं सतर्क 

बाइक की चाबी इधर-उधर रखने की आदत से परेशान हैं? बाद में चाबी खोजते समय पूरा घर सिर पर उठा लेते हैं? अगर हां तो भूलने की इस बीमारी को हल्के में न लें। यह हाइपरटेंशन (उच्च रक्तचाप) की निशानी हो सकती है। अमेरिका स्थित मेयो क्लीनिक का हालिया अध्ययन तो कुछ यही बयां करता है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक रक्त धमनियों में फैट या कोलेस्ट्रॉल जमना उच्च रक्तचाप की बड़ी वजह है। इससे धमनियां सकरी हो जाती हैं और खून का बहाव धीमा पड़ जाता है। मुख्य शोधकर्ता चैनल जॉर्जीना ने बताया कि खून का बहाव धीमा पड़ने से मस्तिष्क में ऑक्सीजन की आपूर्ति घट जाती है।

यह स्थिति तंत्रिका तंत्र की कोशिकाओं पर भारी पड़ती है और वे दम तोड़ने लगती हैं। इससे न सिर्फ याददाश्त, बल्कि तर्क शक्ति और एक साथ कई काम निपटाने की क्षमता भी कमजोर पड़ जाती है।

जॉर्जीना ने भूलने की बीमारी पनपने पर रक्तचाप की नियमित निगरानी शुरू करने की सलाह दी। उन्होंने चेताया कि हाइपरटेंशन की शिकायत को हल्के में लेने के कई गंभीर परिणाम हो सकते हैं। व्यक्ति न सिर्फ हार्ट अटैक और स्ट्रोक, बल्कि अल्जामइमर के चलते भी जीवन के कई बेशकीमती साल गंवा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *