राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन बोले- गाय का गोबर रोक सकता है रेडिएशन, मोबाइल में हो इस्तेमाल

गाय के गोबर से बनी चिप का अनावरण

रेडिएशन रोकने का किया गया दावा

गाय को लेकर कई तरह के दावे किए जाते हैं. इनमें से कुछ पर विवाद हो चुका है. अब राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया ने गाय के गोबर को लेकर एक अलग दावा किया है, जिस पर विवाद हो सकता है. दरअसल, वल्लभभाई कथीरिया की माने तो गाय का गोबर रेडिएशन रोक सकता है, जिसका इस्तेमाल मोबाइल में होना चाहिए.

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया ने सोमवार को ‘कामधेनु दीपावली अभियान’ के राष्ट्रव्यापी अभियान के दौरान गाय के गोबर से बनी एक चिप का अनावरण किया. इस दौरान उन्होंने दावा किया कि यह चिप मोबाइल हैंडसेट से निकलने वाले रेडिएशन को काफी कम कर देता है.

वल्लभभाई कथीरिया ने कहा कि गाय के गोबर से बने इस चिप को अपने मोबाइल में रखते हैं, तो यह रेडिएशन को काफी कम कर देता है. अगर आप बीमारी से बचना चाहते हैं, तो इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. इस चिप को गौसत्व कवच का नाम दिया गया है. गौसत्व कवच को गुजरात के राजकोट स्थित श्रीजी गौशाला द्वारा निर्मित किया गया है। 

वल्लभभाई कथीरिया ने कहा कि गाय का गोबर सभी की रक्षा करेगा, यह एंटी-रेडिएशन है. यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध है. यह एक विकिरण चिप है, जिसका उपयोग विकिरण को कम करने के लिए मोबाइल फोन में किया जा सकता है. यह आपको बीमारियों से सुरक्षित रखेगा.

गौरतलब है कि मत्स्य, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय कामधेनु आयोग की स्थापना केंद्र ने फरवरी, 2019 में की थी. इसका उद्देश्य ‘गायों का संरक्षण और विकास’ है. राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *