काला तेंदुआ दिखा नहीं, दहशत बरकरार

ग्वालियर, । कैंसर पहाड़िया स्थित न्यू विजय नगर में काला तेंदुआ देखे जाने की खबर जैसे ही फैली, दहशत का माहौल बन गया। शनिवार को भी इलाके रहने वाले लोगों में तेंदुए का खौफ देखा गया। जिस खेल मैदान के पास तेंदुआ देखा गया था, वहां शनिवार को बच्चे खेलने नहीं पहुंचे, बस घर के सामने गली में ही खेलते रहे। वहीं वन क्षेत्र में सुबह घूमने भी न के बराबर लोग ही गए। शनिवार को तेंदुआ देखे जाने वाले न्यू विजय नगर के रहवासियों से चर्चा की। लोगों ने बताया कि उन्ने अपने पालतू स्वान बाहर घुले में नहीं छोड़े। वहीं मवेशियों को रोजाना की तरह वन क्षेत्र में चरने के लिए भी नहीं छोड़ा।

न्यू विजय नगर में कई लोगों ने घर में मवेशी पाले हुए हैं। निवासी डॉ.नरेश त्यागी व कांति त्यागी के घर में भी 2 गाय हैं। कांति त्यागी ने बताया कि वे रोजाना सुबह गंगा व कावेरी (दोनों गायों के नाम) को चरने के लिए वन क्षेत्र में छोड़ देती थीं। मगर तेंदुए की सूचना मिलने के बाद गायों को छोड़ने का मन नहीं किया। डॉ.नरेश त्यागी ने बताया कि वनक्षेत्र में पानी के संसाधन नहीं हैं, इसलिए संभव: पानी की तलाश में तेंदुआ रिहायशी इलाके तक आ गया।

टेरेटरी बढ़ाने निकला होगा तेंदुआ, वापस लौटा..!

ग्वालियर वन मंडल के एसडीओ राजीव कौशल ने बताया कि तेंदुए अपना क्षेत्र (टेरेटरी) बढ़ाने के लिए दूर-दूर तक निकल जाते हैं और वापस लौट जाते हैं। सभी जंगली जानवरों का निश्चित टेरेटरी होता है। भोजन व पानी समेत बेहतरी की तलाश में तेंदुआ एक रात में 60-70 किलोमीटर घूमते हैं। संभवत: अब वह लौट गया है, क्योंकि शुक्रवार रात 11:30 बजे किसी वाहन चालक का फोन आया था। जिसने तेंदुए को तिघरा स्थित एबी रोड को पार करते देखा था। वनकर्मी रातभर सक्रीय रहे, जिन्हें तेंदुए का कोई सुराग नहीं मिला। पेड़ों पर लगाए गए 4 कैमरों में भी तेंदुए की कोई मूवमेंट नहीं दिखी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *