फरार गैंगस्टर को मुंबई से पकड़कर ला रही यूपी पुलिस की गाड़ी पलटी, आरोपी की मौत

लखनऊ
गैंगस्टर ऐक्ट के फरार आरोपी को मुंबई से पकड़कर ला रही यूपी पुलिस की गाड़ी रविवार दोपहर संदिग्ध हालात में मध्य प्रदेश में दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे में गैंगस्टर के आरोपी फिरोज की मौत हो गई, जबकि साढू और पुलिसकर्मी चोटिल हो गए। लखनऊ के ठाकुरगंज थाने की पुलिस आरोपी को पकड़ने गई थी।इंस्पेक्टर ठाकुरगंज राजकुमार के अनुसार बहराइच निवासी फिरोज (58\R) के खिलाफ ठाकुरगंज थाने में वर्ष 2014 में यूपी गैंगस्टर ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। इसके बाद से फिरोज फरार चल रहा था।

तलाश में जुटी पुलिस को सर्विलांस की मदद से कुछ दिन पहले फिरोज के मुंबई में होने की सूचना मिली। इसके बाद सब इंस्पेक्टर जगदीश प्रसाद पाण्डेय, कॉन्स्टेबल संजीव सिंह अपने साथ आरोपी के साढ़ू अफजल को लेकर मुंबई गए थे। फिरोज मुंबई के नाला सोपारा की झुग्गी बस्ती में रह रहा था। गिरफ्तारी के बाद पुलिस टीम शनिवार रात को लखनऊ के लिए रवाना हुई। रविवार की सुबह मध्य प्रदेश के गुना जिले चांचौड़ा थाना क्षेत्र में पाखरिया पुरा टॉल के पास पुलिस का वाहन पलट गया। हादसे में गैंगस्टर के आरोपी फिरोज की मौत हो गई।

वहीं अफजल खान का हाथ फ्रैक्चर हुआ है। इसके साथ ही पुलिसकर्मी संजीव, जगदीश प्रसाद व वाहन चालक सुलभ मिश्रा को भी चोटें आई हैं। दरोगा जगदीश प्रसाद ने गुना के पुलिस अधिकारियों को बताया कि सड़क पर अचानक सामने आई गाय को बचाने में वाहन पलट गया। हालांकि आशंका यह भी जताई जा रही है कि चालक को झपकी आने के कारण हादसा हुआ। गुना पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

प्राइवेट गाड़ी से गई थी पुलिस टीम
पूरे मामले में ठाकुरगंज पुलिस की एक बड़ी लापरवाही भी सामने आई है। बताया जा रहा है कि फिरोज को पकड़ने के लिए पुलिस टीम एक प्राइवेट इनोवा से गई थी। सवाल उठ रहा है कि जब पुलिस को आरोपी को पकड़ने के लिए जाना था तो सरकारी वाहन का प्रयोग क्यों नहीं किया गया। नियम के मुताबिक अपराधी को पकड़ने के लिए पुलिस को सरकारी वाहन का प्रयोग करना चाहिए था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *