आनंदीबेन पटेल को राष्ट्रपति ने दी बड़ी जिम्मेदारी, संभालेंगी MP राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन की खराब सेहत और उनकी अनुपस्थिति के कारण उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को राज्य का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है। रविवार शाम रष्ट्रपति भवन की तरफ से जारी एक पत्र में इस बात की जानकारी दी गई। बता दें कि 85 वर्षीय लालजी टंडन 11 जून से ही लखनऊ के एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं। उन्हें सांस की दिक्कत और बुखार आने के बाद हॉस्पिटल ले जाया गया जहां उनकी कोरोना जांच भी की गई, हालांकि लालजी टंडन की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई थी।

लंबे समय से मध्य प्रदेश में राज्यपाल की अनुपस्थिति के कारण राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को वहां का अतरिक्त कार्यभार दिया गया है। राष्ट्रपति की ओर से जारी बयान में कहा गया कि देश के राष्ट्रपति ने लालजी टंडन की अनुपस्थिति में आनंदीबेन पटेल को मध्यप्रदेश के राज्यपाल के कार्य का निर्वहन करने के लिए नियुक्त किया है। राष्ट्रपति ने भारत के संविधान के अनुच्छेद 155 व 160 द्वारा आनंदीबेन पटेल को यह जिम्मेदारी दी है। पत्र में कहा गया है कि आनंदीबेन पटेल नियुक्ति उस दिन से होगी जब वह खुद मध्यप्रदेश का कार्यभार ग्रहण करेंगी।

इस बीच लालजी टंडन की सेहत को लेकर अच्छी खबर सामने आ रही है, डॉक्टरों के मुताबिक उनकी हालत में लगातार सुधार हो रहा है। रविवार को जारी हेल्थ बुलेटिन में कहा गया कि उनका मधुमेह नियंत्रण में है, किडनी, लीवर और हार्ट पहले से बेहतर हैं। बता दें कि मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती है जहां डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं। राज्यपाल को एक-दो दिन में आईसीयू से कमरे में शिफ्ट किया जा सकता है।

टंडन दो बार पार्षद चुने गए और दो बार विधान परिषद के सदस्य रहे

आपको बता दें कि लालजी टंडन उत्तर प्रदेश में बतौर मंत्री कई विभागों का कामकाज भी संभाल चुके हैं। वे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के काफी करीबी रह चुके हैं, इस समय वो एमपी के राज्यपाल हैं, इनका राजनीतिक सफर साल 1960 में शुरू हुआ। टंडन दो बार पार्षद चुने गए और दो बार विधान परिषद के सदस्य रहे हैं। उन्होंने इंदिरा गांधी की सरकार के खिलाफ जेपी आंदोलन में भी बढ़-चढकर हिस्सा लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *