वाराणसी, अमृतसर समेत 6 और हवाई अड्डों का होगा निजीकरण, AAI ने की सिफारिश

नई दिल्ली: भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (AAI) ने अमृतसर, वाराणसी, भुवनेश्वर, इंदौर, रायपुर और त्रिची (तिरुच्चिराप्पल्ली) हवाई अड्डों के निजीकरण की केंद्र से सिफारिश की है. केंद्र सरकार ने इस साल फरवरी में सार्वजनिक-निजी भागीदारी (PPP) मॉडल के तहत परिचालन , प्रबंधन और विकास के लिए पहले ही लखनऊ, अहमदाबाद , जयपुर , मंगलुरु , तिरुवनंतपुरम और गुवाहाटी में हवाई अड्डों का निजीकरण कर दिया है. 

एक सीनियर अधिकारी ने समाचार एजेंसी को बताया, “इस साल फरवरी में छह हवाई अड्डों का निजीकरण किया जा चुका है. AAI ने पांच सितंबर को निदेशक मंडल की बैठक में छह और हवाई अड्डों का प्राइवेटाइजेशन करने का फैसला किया है. इनमें अमृतसर , वाराणसी , भुवनेश्वर , इंदौर , रायपुर और त्रिची शामिल हैं.” अधिकारी ने कहा, “निदेशक मंडल के फैसला लेने के बाद नागर विमानन मंत्रालय को सिफारिश भेज दी गयी है.” 

उल्लेखनीय है कि भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण देशभर में 100 से ज्यादा हवाई अड्डों का परिचालन करता है. इस साल फरवरी में निजीकरण के पहले दौर में अडाणी समूह को सभी 6 हवाई अड्डों के परिचालन का ठेका मिला था. AAI ने विजेता का चुनाव ‘प्रति यात्री शुल्क’ के आधार पर किया था. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *