Navratri_Special : नौ दिन करें लाल किताब के ये उपाय पूरी होगी मन की इच्छा

अहित के लिए किया गया उपाय या टोटका आपके ऊपर ही पड़ सकता है भारी

मां दुर्गा का नौ दिन का त्योहार नवरात्र शुरू होने वाला  है। नवरात्र (Navratri) में लोग मां को खुश करने के लिए पूजा-पाठ और व्रत आदि रखते हैं। नवरात्र में दो तरह की पूजा की जाती हैं। सात्विक और तांत्रिक। सात्विक पूजा के बारे में आप जानते ही होंगे, लेकिन यदि आपकी कोई मन की इच्छा पूरी ना हो पा रही हो तो नवरात्र में लाल किताब (Lal Kitab) के उपायों को अजामा कर देख सकते हैं। माना जाता है नवरात्र में किसी भी प्रकार के उपाय अपनाने से वह जरूर फलीभूत होते हैं। बस एक बात का हमेशा ध्यान रखें कि जो भी उपाय आप कर रहे हों उससे कल्याण होना होना चाहिए। किसी के नुकसान या अहित के लिए किया गया उपाय या टोटका आपके ऊपर भारी पड़ सकता है। हमेशा सच्चे मन और शुद्ध कर्म के साथ यदि लाल किताब के उपाय अपनाए जाएं तो स्वास्थ्य से लेकर धन, आपसी संबंध, शत्रुता आदि से जुड़ी हर समस्या को दूर किया जा सकता है। हम आपको बताते हैं ऐसे 9 उपाय जो आपको 9 दिन करने होंगे। इनको करने से आपको मनचाहा फल मिलेगा।

नवरात्र के प्रथम दिन से नौ दिन तक लगातार हनुमान मंदिर में जाकर उन्हें पान का बीड़ा चढ़ाएं। यह बीड़ा आप स्वयं बनाएं। नौ दिन किए गए ये कार्य आप जिस भी मंशा के साथ करेंगे वह जरूर पूरी होगी।

यदि आप पर किसी ने कोई टोटका किया हो या आप किसी रोग से ग्रसित हों तो आपको देवी का नौ दिन अखंड ज्योत जरूर जलाना चाहिए और यदि ऐसा न कर सकें तो नौ दिन सुबह-शाम देवी के समक्ष घी का दीया जलाएं और उस दीपक में 4 लौंग डाल दें।

यदि मन की कोई आस पूरी न हो पा रही हो तो नवरात्र में पूरे नौ दिन पांच प्रकार के सूखे मेवे लाल चुनरी में रखकर देवी को भोग लगाएं और बाद में इस भोग का सेवन सिर्फ आप करें।

देवी से यदि किसी मनोकामना को पूरा कराना चाहते हैं तो नवरात्र में किसी एक दिन देवी मंदिर में लाल पताका जरूर चढ़ाएं।

धन प्राप्ति के लिए नवरात्र में पूरे नौ दिन रोज एक समय पर देवी को ताजे पान के पत्ते पर सुपारी और सिक्के रखकर समर्पित करें।

देवी मां से सुख और ऐश्वर्य का आशीर्वाद चाहिए तो देवी को नौ दिन लगातार 7 इलायची और मिश्री का भोग लगाएं। इस भोग का सेवन दंपति को ही करना चाहिए।

यदि आर्थिक संकट या कर्ज के बोझ से दबे हों तो नवरात्र में मखाने के साथ सिक्के मिलाकर देवी को अर्पित करें और फिर उसे गरीबों में बांट दें।

लाल किताब के ये उपाय नवरात्र के प्रथम दिन से शुरू कर अंतिम नवरात्र तक करें और एक बार में एक ही उपाय अपनाएं। नवरात्र में पहले एक, दूसरे दिन दो ऐस करते हुए क्रमश : नौ कन्याओं को हर दिन भोजन कराएं और उनकी पूजा कर उन्हें दक्षिणा भेंट करें। ये उपाय आपके घर-परिवार पर आने वाले हर सकंट को हर लेगा और आपके घर में सुख-शांति का वास होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!