Vastu Shastra: पोछा लगाने से पहले बाल्टी में डाल दें ये चीज, इतना पैसा आएगा कि आप संभाल नहीं पाएंगे

Vastu Shastra:पोछा लगाते समय पानी में एक ऐसी चीज है, जिसकी दों बूंद पोछा के पानी में मिलाने से आपकी किस्मत बदल सकती है। अगर आपके घर में पैसा की दिक्कत है, तथा पैसा आने के सभी रास्ते बंद हो गए है और आप जीवन में काफी तकलीफ महसूस कर रहे हैं और आप कितनी भी मेहनत करते हों, लेकिन मेहनत के मुताबिक आपको जितना पैसा मिलना चाहिए, वह आपके नसीब में नहीं मिल पा रहा है।

Vastu Shastra:पोछा लगाते समय पानी में एक ऐसी चीज है, जिसकी दों बूंद पोछा के पानी में मिलाने से आपकी किस्मत बदल सकती है। अगर आपके घर में पैसा की दिक्कत है, तथा पैसा आने के सभी रास्ते बंद हो गए है और आप जीवन में काफी तकलीफ महसूस कर रहे हैं और आप कितनी भी मेहनत करते हों, लेकिन मेहनत के मुताबिक आपको जितना पैसा मिलना चाहिए, वह आपके नसीब में नहीं मिल पा रहा है, आपके द्वारा कुछ वास्तु के उपाय करने से धन आने के सभी रास्तों से आपके घर पैसा आने लगेगा और आपके जीवन की सभी परेशानियां दूर हो जाएंगी। तथा आपके घर में लक्ष्मी जी निवास करने लगेंगी। क्योंकि जिस घर में लक्ष्मी निवास करती हैं, उस घर से परेशानियां स्वत: ही दूर हो जाती हैं।

पीली राई

पीली राई भगवान विष्णु जी का कारक है, यानी कि, जितनी भी भगवान विष्णु जी की शक्तियां हैं वो आपकी तरफ खींची चली आती हैं। वहीं पीली राई पर सूर्यदेव की शक्ति भी समाहित है। वहीं देवगुरु बृहस्पतिदेव की शक्तियां भी इसमें समाहित हैं और जितने भी पीले पदार्थ के देवी-देवता हैं, जैसे की मां बंगलामुखी और पीतांबरा देवी हैं और जितनी भी तांत्रिक शक्तियां पीले कलर वाली हैं, वो सब पीली राई में समाहित होती हैं। तो आपको प्रतिदिन घर में पोछा लगाते समय कुछ दाने पीली राई के डालकर ही पोछा लगाना चाहिए। ऐसा करने से पीली राई पूरे घर के वातावरण को पवित्र कर देती है। घर से नाकारात्मक शक्ति राहु-केतु आदि को भगा देती हैं। घर से राहु रुपी नकारात्मक शक्तियां भाग जाए तो वह घर पवित्र हो जाता है और जो घर पवित्र हो जाए वहां पर लक्ष्मी जी स्थायी रुप से निवास करती हैं।

हल्दी

हल्दी भी पीले कलर की होती है और हल्दी नाकारात्मक शक्तियों को घर से दूर करने में तीव्र रुप से प्रभावी है। पोछा लगाते समय अगर चुटकी भर हल्दी डालकर घर में पोछा लगाया जाए तो इससे नकारात्मक शक्तियां यूं ही समाप्त हो जाती हैं और घर में सकारात्मक परिणाम सामने आने लगते हैं और सकारात्मक ऊर्जा बनने लगती है। घर से नगेटिविटी, और जितने भी ग्रह दोष और वास्तुदोष हैं, वे सारे दोष समाप्त हो जाते हैं। जबकि घर में वास्तुदोष होने के कारण भी घर में धन नहीं ठहरता है।

नमक

नमक समुद्र से उत्पन्न हुआ है। इसीलिए समुद्र जिस प्रकार संसार के सभी चीजों को अपने अंदर समाहित कर लेता है, ठीक उसी प्रकार नमक भी सभी प्रकार के दोषों को समाप्त कर देता है।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। Thenewslight इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!