Pitru Paksha 2021:पितृ पक्ष में कौवा को खिला दें ये एक चीज, मन मांगी मुराद होगी पूरी

Pitru Paksha 2021: अभी श्राद्ध पक्ष चल रहा है और श्राद्ध पक्ष में पितृगण चीटी, गाय, कुत्ते, बिल्ली के रुप में हमारे समीप रहते हैं। तथा इन सभी जीवों के रुप में आकर वे भोग को ग्रहण करते हैं। तो आइए जानते हैं कि, पितृ पक्ष में किस प्रकार अपने पितृों को प्रसन्न किया जाए।

Pitru Paksha 2021: अभी श्राद्ध पक्ष चल रहा है और श्राद्ध पक्ष में पितृगण चीटी, गाय, कुत्ते, बिल्ली के रुप में हमारे समीप रहते हैं। तथा इन सभी जीवों के रुप में आकर वे भोग को ग्रहण करते हैं। तो आइए जानते हैं कि, पितृ पक्ष में किस प्रकार अपने पितृों को प्रसन्न किया जाए।

जो भी व्यक्ति अपने जीवन काल में एक बार अपने पितृों को प्रसन्न कर लेता है, तो फिर उसके जीवन में कभी भी धन का अभाव नहीं होता है और पृथ्वी में दबे हुए धन के स्वामी पितृदेव ही होते हैं।

हिन्दू धर्मशास्त्रों के मुताबिक, देवताओं से भी उत्तम स्थान हमारे पितृों का होता है, इसीलिए पितृों को पितृदेव कहा जाता है। वहीं अगर आपके भी घर में कौवा आते हैं तो आप आटे की छोटी-छोटी गोली बनाकर कौवा को जरुर खिलाएं। क्योंकि आटे की छोटी-छोटी गोलियां पितृों को बेहद पसंद होती हैं।

वहीं आप अगर चाहते हैं तो कौवा को रोटी भी खिला सकते हैं। इससे पितृों की आत्मा काफी प्रसन्न होती है, क्योंकि कौवा के शरीर के रुप में ही पितृों की आत्मा आती है और आपके द्वारा दिए गए भोग को स्वीकार करती है। तथा इससे पितृ प्रसन्न होकर हमारी सभी प्रकार की मुरादों को पूरा करते हैं।

वहीं चीटीं को अगर कोई भी व्यक्ति पितृकाल में मिश्री और गुड़ अगर खिला दें तो उनके सात जन्मों की दरिद्रता भी समाप्त हो जाती है।

वहीं कुत्ते को अगर पितृ पक्ष में चावल खिला दिया जाए तो इससे पितृगण तृप्त हो जाते हैं।

वहीं बिल्ली को अगर पितृ पक्ष में दूध पिलाया जाए तो इससे पितृ प्रसन्न होते हैं और आपको मुंह मांगा आशीर्वाद प्रदान करते हैं।

पितृ पक्ष में गाय के शरीर में हमारे पितृगणों की शक्तियां भी निवास करती हैं। तो इस दौरान गऊ माता को लड्डू या खीर खिला दी जाए अथवा गाय को बताशे आदि खिला दिए जाएं तो इससे हमारी सभी प्रकार की मुरादें पूर्ण हो जाती हैं।

(Disclaimer: इस स्टोरी में दी गई सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं। द न्यूज लाइट इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन तथ्यों को अमल में लाने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!