अमेरिका यात्रा पर रवाना हुए PM मोदी, बोले- संबंधों को मजबूत करने का अवसर, UNGA को भी करेंगे संबोधित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राज्य अमेरिका की अपनी बहुप्रतीक्षित यात्रा (22-25 सितंबर) पर रवाना हो चुके हैं। जाने से पहले उन्होंने कहा है कि इस दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ व्यापक वैश्विक रणनीतिक साझेदारी और पारस्परिक हित के क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा, ”मैं हमारे दोनों देशों के बीच विशेष रूप से विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सहयोग के अवसरों का पता लगाने के लिए उप राष्ट्रपति कमला हैरिस से मिलने के लिए भी उत्सुक हूं।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ”मैं अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन, ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा के साथ पहले व्यक्तिगत रूप से क्वाड लीडर्स शिखर सम्मेलन में भाग लूंगा। शिखर सम्मेलन इस साल मार्च में हमारे आभासी शिखर सम्मेलन के परिणामों का जायजा लेने और भारत-प्रशांत क्षेत्र के लिए हमारे साझा दृष्टिकोण के आधार पर भविष्य की गतिविधियों के लिए प्राथमिकताओं की पहचान करने का अवसर प्रदान करता है।”

उन्होंने कहा, ”मैं ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मॉरिसन और जापान के प्रधानमंत्री सुगा से उनके संबंधित देशों के साथ मजबूत द्विपक्षीय संबंधों का जायजा लेने और क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर हमारे उपयोगी आदान-प्रदान को जारी रखने के लिए भी मिलूंगा।”

संयुक्त राष्ट्र महासभा को भी संबेधित करेंगे पीएम मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा में संबोधन के साथ अपनी यात्रा का समापन करेंगे। उन्होंने कहा कि उनके संबोधन में कोविड -19 महामारी, आतंकवाद से निपटने की आवश्यकता, जलवायु परिवर्तन और अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों सहित वैश्विक चुनौतियों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि अमेरिका की उनकी यात्रा संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ व्यापक वैश्विक रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने, भारत के रणनीतिक भागीदारों जापान और ऑस्ट्रेलिया के साथ संबंधों को मजबूत करने और महत्वपूर्ण वैश्विक मुद्दों पर हमारे सहयोग को आगे बढ़ाने का एक अवसर होगा।

आपको बता दें कि पीएम मोदी के सुबह 11 बजे के बाद अमेरिका के लिए रवाना हो रहे हैं। पीएम के भारतीय समयानुसार दोपहर 3.30 बजे वाशिंगटन पहुंचने की उम्मीद है। पीएम मोदी 24 सितंबर को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से मिलने वाले हैं। दोनों नेता अफगानिस्तान में हालिया घटनाक्रम के बाद मौजूदा क्षेत्रीय सुरक्षा स्थिति पर चर्चा करेंगे। बिडेन के अमेरिकी राष्ट्रपति बनने के बाद यह उनकी पहली मुलाकात होगी और हैरिस के साथ उनकी पहली व्यक्तिगत मुलाकात होगी।

पीएम मोदी उसी दिन शीर्ष अमेरिकी व्यापार जगत के प्रमुखों के साथ बैठक करेंगे। व्यापार और निवेश को बढ़ावा देने पर चर्चा करेंगे। पीएम मोदी के साथ विदेश मंत्री एस जयशंकर, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों का एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!