Nazar Dosh Ke Upay : बुरी से बुरी नजर उतारने का अचूक उपाय, करते ही दूर होते हैं सारे दोष

जीवन में जब चलती हुई चीजें रुक जाएं या फिर काम-धंधे में अचानक से नुकसान होने लगे या फिर अच्‍छे-भले स्वस्थ इंसान की अचानक से खुराक कम हो जाए तो अक्सर लोगों को किसी बुरी नजर का डर सताने लगता है. बुरी नजर (Evit Eye) जब किसी को लगती है तो अचानक से उसके जीवन में तमाम तरह की समस्याएं आने लगती हैं. यदि आपको लगता है कि आप भी किसी ऐसी ही बुरी नजर (Buri Nazar) के शिकार हो गए हैं तो आज हम आपको कुछ ऐसे अचूक उपाय बताने जा रहे हैं, जिन्हें करते ही आपकी मुश्किले खत्म हो जाती हैं और जीवन में हमेशा खुशियों का वास बना रहता है.

जब किसी व्यक्ति को लगे नजर

यदि आपको लगता है कि आपके घर के किसी सदस्य को नजर लग गई हो तो एक नींबू लेकर उसे 7 बार नजर लगे व्यक्ति के उपर से वार लें और उसके बाद नींबू के चार टुकड़े करके किसी सुनसान स्थान पर फेंक दें.

जब व्यापार को लगे नजर

यदि आपको लगता है कि आपके कारोबार को अक्सर किसी की बुरी नजर लग जाती है तो आप इससे बचने के लिए अपने कार्यस्थल के मुख्य द्वार पर काले कपड़े में फिटकरी बांधकर के लटका दें. नजर दोष दूर करने के इस उपाय का करते ही आपको चमत्कारिक लाभ मिलेगा.

जब घर के सामंजस्य को लगे नजर

यदि आपको लगता है कि आपके घर की एकता और प्रेमभाव को किसी की काली नजर लग गई है और अब आपसी प्रेम की जगह कलह होने लगी है तो इसे दूर करने के लिए घर के मुखिया को रात के समय अपने बिस्तर के नीचे एक लोटा पानी रखना चाहिए. इसके बाद सुबह स्नान-ध्यान के बाद उस लोटे के जल को अपने गुरु का या फिर अपने इष्टदेव का मंत्र जपते हुए किसी पीपल के पेड़ की जड़ में डाल देना चाहिए. इस उपाय को करने से घर के सामंजस्य को लगी नजर दूर हो जाती है.

काली मिर्च से दूर होगी काली नजर

यदि आपको लगता है कि आपके घर की खुशियों को किसी की नजर लग गई है और आए दिन आपके यहां कोई न कोई अड़चन आती रहती है तो आप इसे दूर करने के लिए किसी भी दिन पांच काली मिर्च के दाने लेकर उसे अपने सिर से सात बार वार करके किसी एकांत स्थान पर जाकर चारों दिशाओं में फेंक देना चाहिए. इसके बाद पांचवी काली मिर्च को ऊपर की दिशा में फेंक कर, बगैर पीछे मुड़े चुपचाप घर वापस चले आना चाहिए. प्रयास करें कि इस उपाय को करते समय आपको कोई टोके नहीं. इस अचूक उपाय से आपके जीवन में आने वाली सभी रुकावटें दूर हो जाएंगी और खुशियों का वास बना रहेगा.

(यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं, इसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!