ISI समर्थित आतंकवादी मॉड्यूल के चार सदस्यों की गिरफ्तारी के बाद पंजाब में हाई अलर्ट

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई समर्थित आतंकवादी मॉड्यूल के चार और सदस्यों की गिरफ्तारी के बाद पंजाब में बुधवार को हाई अलर्ट जारी कर दिया गया। यह मॉड्यूल पिछले महीने राज्य के अमृतसर जिले में आईईडी विस्फोट में संलिप्त था। इंटर सर्विसेज इंटेलीजेंस (आईएसआई) पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी है।

सरकार की तरफ से यहां जारी बयान के मुताबिक, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने राज्य में हाई अलर्ट जारी करने का आदेश दिया है। पुलिस ने कहा कि राज्य में पिछले 40 दिनों में पाकिस्तानी आतंकवादी मॉड्यूल के भंडाफोड़ का यह चौथा मामला है।

पुलिस महानिदेशक दिनकर गुप्ता ने बुधवार को यहां जारी बयान में कहा कि पाकिस्तान के आतंकवादी ओर पाकिस्तानी खुफिया अधिकारी ‘कासिम की पहचान की गई है और अमृतसर में विस्फोट के मामले में उसका नाम दर्ज है। वे ही मॉड्यूल में शामिल हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान स्थित इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन के प्रमुख लखबीर सिंह रोडे और लखबीर सिंह का भी आतंकवादी मॉड्यूल में हाथ है। दोनों पंजाब के मोगा जिले के रोडे के निवासी हैं और फिलहाल पाकिस्तान में रहते हैं। 

पुलिस ने बताया कि मंगलवार को जिन लोगों की गिरफ्तारी हुई है उनकी पहचान रूबल सिंह, विक्की भुट्टी, मलकीत सिंह और गुरप्रीत सिंह के रूप में हुई है। इससे पहले 20 अगस्त को कपूरथला पुलिस ने उनके एक सहयोगी गुरमुख सिंह को गिरफ्तार किया था।

राज्य में शांति को बाधित करने के आतंकवादी समूहों के बढ़ते प्रयासों का गंभीर रूप से संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने पुलिस को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं, खास तौर पर स्कूलों एवं शैक्षणिक संस्थानों के फिर से खुलने, आगामी त्योहारों ओर अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए उन्हें सतर्क रहने के लिए कहा गया है। सिंह ने डीजपी से कहा कि उच्चस्तरीय सुरक्षा प्रबंध किए जाएं, खासकर भीड़भाड़ वाले स्थानों और बाजारों और राज्य के संवेदनशील स्थानों पर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!