मुख्तार अंसारी की जेल में तबीयत बिगड़ी, बांदा मेडिकल कॉलेज में कराया गया भर्ती 

बांदा जेल में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की तबीयत मंगलवार की दोपहर अचानक बिगड़ गई। इसके बाद उन्हें बांदा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। फिलहाल उन्हें क्या दिक्कत है, इस पर कोई भी अधिकारी कुछ बोलने को तैयार नहीं है। पंजाब की रोपण जेल से 6 अप्रैल को मुख्तार को बांदा जेल लाया गया था। तब से वह जेल की चहारदीवारी में ही है। इस दौरान मऊ, आजमगढ़, प्रयागराज, बाराबंकी की अदालतों में उसकी पेशी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हुई। पांच महीने में पहली बार उसे जेल से बाहर कहीं लाया गया है। 

बताया जा रहा है कि बांदा जेल की बैरक में ही मंगलवार की सुबह उसकी तबीयत बिगड़ी तो पहले जेल अस्पताल में लाया गया। यहां हालात गंभीर होने पर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। इसके बाद आला अधिकारियों को मामले से अवगत कराया गया। तत्काल सुरक्षा गारद जेल पहुंची और मुख्तार को मेडिकल कॉलेज में भर्ती करा दिया गया। मेडिकल कालेज पर भी पुलिस और पीएसी के दस्ते तैनात कर दिये गए हैं। मुख्तार की हालत गंभीर बताई जा रही है। फिलहाल क्या हुआ है, इस पर कोई कुछ बोलने  को तैयार नहीं है। 

पहले भी इसी जेल में बिगड़ी थी तबीयत, चाय में जहर देने का लगा था आरोप

पंजाब की जेल में जाने से पहले भी मुख्तार अंसारी बांदा की जेल में बंद थे। तब भी एक बार उनकी तबीयत बिगड़ी थी। उन्हें लखनऊ के अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था। उनके भाई अफजाल अंसारी ने कहा था कि उन्हें चाय में जहर दिया गया था। पंजाब की जेल में एक बार फिर जब मुख्तार को बांदा लाया गया तो अफजाल और परिवार वालों ने विरोध भी किया था। कहा था कि एक बार उन्हें चाय में जहर देकर मारने की कोशिश यहां हो चुकी है। 

कोर्ट में जताया था जान को खतरे का अंदेशा

मुख्तार अंसारी ने लगातार अपनी पेशी के दौरान जान के खतरे का अंदेशा जताते हुए गुहार लगाई है। फिलहाल उनकी पेशी वीडियो कांफ्रेंसिंग से होती है। उनके भाई अफजाल अंसारी और पत्नी अफ्शां अंसारी ने भी कोर्ट में इस बाबत गुहार लगाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!