मध्य प्रदेश में डेंगू की दस्तक, जानिए इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर का हाल

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस महामारी के बाद अब डेंगू ने दस्तक दे दी है, प्रदेश में लगातार इसके मरीजों की संख्या बढ़ रही है। प्रदेश के प्रमुख शहरों भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर में लगातार इसके मरीज सामने आ रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग अब कोरोना के बाद डेंगू से लोगों को बचाने में जुट गया है। दरअसल प्रदेश के अनके हिस्सों में कभी बारिश और कभी धूप की वजह से मच्छरों की संख्या लगातार बढ़ना भी इसकी वजह मानी जा रही है।

भोपाल में एक ही दिन में डेंगू के सर्वाधिक 12 मरीज मिले

कोरोना के बाद भोपाल में डेंगू का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। सोमवार को 12 मरीज मिले हैं। यह इस साल में एक दिन में सर्वाधिक आंकड़ा है। चिकनगुनिया के चार मरीज मिले हैं। अब तक मिले मरीजों में 40 का निजी और सरकारी अस्पतालों में इलाज चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने बताया कि डेंगू के सबसे ज्यादा मरीज साकेत नगर, बागसेवनिया, कोटरा में मिल रहे हैं। करीब 10 फीसद घरों में लार्वा मिल रहे हैं, इसके बाद भी नगर निगम की तरफ से मकान मालिकों पर जुर्माना नहीं किया जा रहा है। पिछले सालों में कुछ मकान मालिकों के यहां एक साल के भीतर कई बार लार्वा मिलने पर 200 से लेकर पांच हजार रुपये तक जुर्माना किया गया था। दूसरी बात यह है कि लार्वा सर्वे के लिए कर्मचारियों की संख्या भी नहीं बढ़ाई जा रही है। पूरे शहर में नगर निगम के 85 वार्डों के लिए सिर्फ 33 टीमें काम कर रही हैं, जबकि हर वार्ड में कम से एक टीम होनी चाहिए।

इंदौर में मेडिकल व नर्सिंग कालेज के हास्टल में भी फैला डेंगू, शहर में मिले आठ मरीज

इंदौर में डेंगू के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। सोमवार को डेंगू के आठ नए मरीज मिले। इस तरह अब तक डेंगू के 86 मरीज मिल चुके हैं। सोमवार को मिले डेंगू के मरीजों एक एमजीएम मेडिकल कालेज के बालक छात्रावास व एक बालिका छात्रावास में मिला। इसके अलावा बीएससी नर्सिंग छात्रावास में भी एक मरीज मिला। कुछ दिन पहले भी मेडिकल कालेज व नर्सिंग कालेज में डेंगू के मरीज मिल चुके है। एमजीएम मेडिकल कालेज के डीन डा. संजय दीक्षित के मुताबिक हमने निगम की टीम बात की है। वो छात्रावासों में सर्वे कर जहां भी जलजमाव वाले स्थान होंगे वहां लार्वानाशक दवा का छिड़काव करेगे। इसके अलावा जल निकासी के इंतजामों को भी दुरस्त किया जाएगा और जहां सफाई की जरूरत होगी, वो भी करवाएंगे। सोमवार को मेडिकल कालेज व नर्सिंग कालेज छात्रावास के अलावा बाणगंगा क्षेत्र के मुखर्जी नगर, सांवेर रोड स्थित भवानी नगर, स्कीम-162, मूसाखेड़ी क्षेत्र के चंद्रपुरी, आलोक नगर, वीणा नगर क्षेत्र में भी डेंगू के मरीज मिले।

ग्वालियर में भी डेंगू का डंक

ग्वालियर में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा मनीष शर्मा के अनुसार अस्पतालों में डेंगू के 27 मरीज सामने आए हैं, जिनमें से 16 मरीज ग्वालियर शहर के हैं। हम डेंगू को रोकने के लिए सभी उपाय कर रहे हैं।

जबलपुर में भी कहर

जबलपुर में शनिवार को एक साथ डेंगू के 22 मरीज मिलने के बाद हड़कंप मच गया था। नगर निगम के 9 नंबर वार्ड में लोग डेंगू का शिकार हुए। जबलपुर नगर निगम ने शहर में दवाई के छिड़काव के साथ फागिंग मशीन चलाई जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!