नए एशियाई रिकॉर्ड के साथ प्रवीण कुमार ने हाई जंप में सिल्वर मेडल पर जमाया कब्जा

टोक्यो पैरालंपिक में भारतीय एथलीट्स का जलवा कायम है। हाई जंप स्पर्धा में प्रवीण कुमार ने देश को छठा सिल्वर मेडल दिला दिया है। प्रवीण ने 2.07 मीटर का लंबी छलांग लगाते हुए सिल्वर मेडल पर कब्जा जमाया। इस छलांग के साथ ही प्रवीण ने नया एशियाई रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। पूरे मुकाबले में प्रवीण बेहतरीन लय में दिखाई दिए, लेकिन आखिरी क्षणों में पौलेंड के खिलाड़ी जॉनाथन उन पर भारी पड़े और 2.10 मीटर की छलांग लगाते हुए उन्होंने गोल्ड जीत लिया। पैरालंपिक में यह भारत का 11वां मेडल है।

प्रवीण को फाइनल मैच में पोलैंड के खिलाड़ी जीबीआर जोनाथन से कड़ी टक्कर मिली और दोनों के बीच गोल्ड के लिए कड़ा संघर्ष देखने को मिला। प्रवीण  पोलैंड के इस खिलाड़ी को कड़ी टक्कर दे रहे थे, लेकिन वह जॉनाथन द्वारा लगाई गई 2.10 मीटर की लंबी छलांग की बराबरी नहीं कर सके और उनको सिल्वर से संतोष करना पड़ा। हाई जंप में यह भारत का तीसरा मेडल है इससे पहले मरियप्पन थंगावेलु और शरद कुमार ने सिल्वर और ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाया था। भारत अबतक टोक्यो पैरालंपिक में 2 गोल्ड, 6 सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज के साथ 11 मेडल अपने नाम कर चुका है।

सिल्वर मेडल जीतने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रवीण को ट्वीट करके उनकी इस उपलब्धि पर बधाई दी। पीएम ने लिखा, ‘पैरालंपिक में सिल्वर मेडल जीतने पर आप पर गर्व हैं प्रवीण। यह मेडल उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण का नतीजा है। उनको बहुत बधाई हो। भविष्य के लिए उनको शुभकामनाएं।’ पैरालांपिक में यह भारत का अबतक का बेस्ट प्रदर्शन है और कई सालों के बाद देश की मेडल टैली दोहरे अंक में पहुंच सकी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!