बगराम एयरबेस पर कब्जे की तैयारी में ड्रैगन… निक्की हेली ने कहा- भारत के खिलाफ चीन कर सकता है पाकिस्तान का इस्तेमाल

अफगानिस्तान में तालिबान के फिर से सत्ता में आने के बाद, एक पूर्व वरिष्ठ अमेरिकी राजनयिक ने कहा है कि चीन पर नजर बनाए रखने की जरूरत है। उन्होंने कहा है कि वह बगराम वायु सेना के अड्डे पर कब्जा करने के लिए कदम उठा रहा है, जिसे लगभग दो दशकों से संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा नियंत्रित किया गया था। 

संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की पूर्व दूत निक्की हेली ने बुधवार को फॉक्स न्यूज को बताया कि यह समय है कि राष्ट्रपति जो बाइडेन का प्रशासन भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया जैसे अपने प्रमुख मित्रों और सहयोगियों तक पहुंचे और उन्हें आश्वस्त करें कि अमेरिका उनके साथ खड़ा रहेगा।

हेली ने कहा, “आपको सबसे पहले तुरंत हमारे सहयोगियों के साथ जुड़ना शुरू कर देना चाहिए। चाहे वह ताइवान हो, यूक्रेन हो, इज़राइल हो, भारत हो, ऑस्ट्रेलिया हो या फिर जापान हो, उन्हें आश्वस्त करें कि हम उनके साथ खड़े हैं।” उन्होंने आगे कहा, “दूसरा, हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि हम दुनिया भर में आतंकवाद विरोधी प्रयास कर रहे हैं। जिहादियों की इस नैतिक जीत के साथ, आप चारों तरफ बड़े पैमाने पर भर्ती अभियान देखने जा रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “हमें यह सुनिश्चित करने की ज़रूरत है कि हम सुरक्षित हैं। हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि हमारी साइबर सुरक्षा मजबूत है, क्योंकि रूस जैसे देश हमें हैक करना जारी रखेंगे क्योंकि हम वापस लड़ने के लिए तैयार होने के कोई संकेत नहीं दिखा रहे हैं। हमें चीन पर नजर रखने की जरूरत है, क्योंकि मुझे लगता है कि आप चीन को बगराम एयर फोर्स बेस के लिए कदम बढ़ाते हुए देखेंगे।”

एक सवाल के जवाब में हेली ने कही, “मुझे लगता है कि वे अफगानिस्तान में भी कदम उठा रहे हैं और भारत के खिलाफ जाने के लिए पाकिस्तान को मजबूत बनाने की कोशिश कर रहे हैं। हमारे पास बहुत सारे मुद्दे हैं। उन्हें जो सबसे बड़ा काम करना चाहिए वह है हमारे सहयोगियों को मजबूत करना। उन रिश्तों को मजबूत करना चाहिए। हमारी सेना का आधुनिकीकरण करना और यह सुनिश्चित करना कि हम साइबर अपराधों और हमारे रास्ते में आने वाले आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए तैयार हैं। ”

हेली ने अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की “विनाशकारी” वापसी के लिए बाइडेन की खिंचाई की। उन्होंने कहा, “बाइडेन ने सेना और सैन्य परिवारों के हर सदस्य का विश्वास खो दिया है, जिसका हिस्सा होने पर मुझे गर्व है। उन्होंने हमारे सहयोगियों का विश्वास खो दिया है जो अब हमारे बिना बातचीत कर रहे हैं क्योंकि वे नहीं जानते कि हम जो कर रहे हैं वह क्यों कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि बाइडेन ने अमेरिकी लोगों का विश्वास खो दिया है। हेली ने कहा, “जिहादी सड़कों पर जश्न मना रहे हैं क्योंकि अमेरिका ने काबुल छोड़ दिया है। उन्होंने तालिबान को अरबों डॉलर के उपकरण और गोला-बारूद के रूप में उपहार छोड़ दिया है।” हेली ने कहा, “इससे अधिक शर्मनाक और अपमानजनक स्थिति कुछ और नहीं हो सकती है। दुनिया निश्चित रूप से एक खतरनाक मोड़ पर है। अमेरिका ने काबुल छोड़ दिया, इसका मतलब यह नहीं है कि युद्ध खत्म हो गया।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!