ज्योतिरादित्य के मंच पर टूटे कोरोना के नियम, रूल ऑफ सिक्स लागू है, फिर भी स्टेज पर बैठे थे 10 लोग, इनमें 3 मंत्री,एम्बुलेंस बांटने कर दिया राजनीतिक आयोजन

ग्वालियर में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, प्रदेश में शिवराज सरकार के 3 मंत्री, पूर्व मंत्री व सांसद ने कोविड गाइडलाइन का मजाक उड़ाया है। जिले में रूल ऑफ सिक्स लागू है। मतलब एक साथ 6 लोग से ज्यादा मिलने पर धारा 144 का उल्लघंन माना जाता है। पर मोतीमहल में एम्बुलेंस वितरण कार्यक्रम के स्टेज पर ही 10 लोग शान से बैठे थे।

जिसमें सिंधिया, ग्वालियर सांसद विवेक शेजवलकर, शिवराज सरकार के तीन मंत्री प्रद्युम्न सिंह, ओपीएस भदौरिया, भारत सिंह शामिल हैं। इतना ही नहीं किसी भी राजनीतिक, धार्मिक या अन्य कार्यक्रम पर रोक है। इसके बाद भी यह कार्यक्रम हो गया। सैकड़ों की संख्या में कार्यक्रता पहुंचे।

तीन दिन के अंचल दौरे पर आए राज्यसभा सांसद व BJP नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया पर कोरोना संक्रमण काल में लापता होने और गायब होने के आरोप लगते रहे हैं। यह आरोप कांग्रेस ने लगाए थे। साथ ही यह भी कहा था कि अनलॉक होते ही सिंधिया ग्वालियर में अपनी जनसेवा करने कूद पड़ेंगे। लगभग वैसा ही होता दिख रहा है। शुक्रवार को ग्वालियर संभाग को 5 एम्बुलेंस देने के लिए एक कार्यक्रम किया गया, लेकिन यह कार्यक्रम ने बता दिया कि सारी पाबंदियां और नियम सिर्फ आम लोगों, बाजारों और व्यापारियों पर लागू होते हैं। शुक्रवार दोपहर मोतीमहल के कन्ट्रोल कमांड सेंटर में 5 एम्बुलेंस दान देने के लिए भव्य मंच सज गया। जिले में संक्रमण को रोकने रूल ऑफ सिक्स लागू है। मतलब किसी भी स्थान पर 6 से ज्यादा लोग एकत्रित नहीं हो सकते, लेकिन मंच पर खुद राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, ग्वालियर सांसद विवेक शेजवलकर व प्रदेश सरकार के तीन मंत्री प्रद्युम्न सिंह, ओपीएस भदौरिया, भारत सिंह कुशवाह व पूर्व मंत्री इमरतीदेवी, भाजपा जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी मौजूद थे और नियमों की धज्जियां उड़ रही थीं। यह वो लोग हैं जिन पर जिम्मेदारी है कि संक्रमण को बढ़ने से रोका जाए, लेकिन यह खुद संक्रमण को आमद दे रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *