रोजाना कच्चा प्याज खाने के फायदे, इन गंभीर बीमारियों का खतरा होगा कम 


सब्जियों में तो आप प्याज का इस्तेमाल करते ही होंगे और शायद कच्चा भी खाते होंगे, लेकिन क्या आप इसके फायदों के बारे में जानते हैं? गर्मियों के मौसम में अक्सर लोग कच्चा प्याज खाना पसंद करते हैं, क्योंकि यह सिर्फ लू से ही नहीं बचाता बल्कि यह कई बीमारियों से भी आपको बचा सकता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक, कच्चा प्याज खाने से हाई ब्लड प्रेशर से लेकर कैंसर और हृदय से जुड़ी बीमारियों का खतरा काफी कम हो जाता है। साल 1990 में अमेरिका में हुए एक अध्ययन में यह दावा किया गया था कि कच्चा प्याज खाने से दिल से जुड़ी बीमारियां ठीक हुई हैं। यह पाचन क्रिया को भी सही रखने में मदद करता है। आइए जानते हैं कच्चा प्याज खाने के फायदों के बारे में… 


सलाद में कच्चा प्याज खाने से पाचन ठीक रहता है और सांस संबंधी रोगों से भी बचने में मदद मिलती है। दरअसल, इसमें मौजूद मैग्नीशियम और अन्य खनिज लवण शरीर में खून का प्रवाह बनाए रखने में मदद करते हैं, जिससे ऊर्जा का स्तर बना रहता है। आप दोपहर के खाने में कच्चे प्याज को सलाद में शामिल कर सकते हैं। 


प्याज शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का भी काम करता है। इसमें फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, पोटैशियम और विटमिन-सी जैसे गुण पाए जाते हैं, जो न सिर्फ शरीर को निरोग बनाते हैं बल्कि इम्यूनिटी बढ़ाने में भी मदद करते हैं। 


प्याज में एंटी-कैंसर गुण भी पाए जाते हैं। ये शरीर में कैंसर सेल्स को न सिर्फ बढ़ने से रोकते हैं बल्कि उसे खत्म भी करते हैं। कई अध्ययनों में यह दावा किया गया है कि प्याज खाने वालों को कैंसर जैसी गंभीर बीमारी का खतरा कम होता है। 


प्याज में सल्फर यौगिक मौजूद होते हैं जो ब्लड शुगर के खतरे को कम करते हैं। अगर किसी को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो उसे कच्चे प्याज का सेवन करना चाहिए। मैरीलैंड यूनिवर्सिटी के मेडिकल सेंटर के मुताबिक, कच्चे प्याज के सेवन से ब्लडर इंफेक्शन को भी कम करने में मदद मिलती है। कई अध्ययनों में यह भी बताया गया है कि प्याज का सेवन हृदय से जुड़ी बीमारियों में भी फायदेमंद होता है। यह हार्ट अटैक का खतरा कम कर देता है। 

नोट: यह सलाह केवल आपको सामान्य जानकारी प्रदान करने के लिए दी गई है। आप किसी भी चीज का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर या विशेषज्ञ से सलाह जरूर लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!