संक्रमण की चपेट में खाकी:SP, DSP, TI समेत 135 पुलिस जवान और अफसर हो चुके हैं संक्रमित, एक की मौत

ग्वालियर/ कोरोना की दूसरी लहर का असर अब आम लोगों के साथ खाकी पर भी दिखने लगा है। ग्वालियर में SP, DSP, TI व सब इंस्पेक्टर समेत कुल 135 पुलिस जवान व अफसर कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इससे पुलिस का काम भी प्रभावित हो रहा है। लगातार पुलिस जवान और अफसरों के संक्रमण की चपेट में आने से चिंता बढ़ती जा रही है। क्योंकि पुलिस जवान व अफसर लगातार घूम रहे हैं, ऐसे में यह संक्रमण और भी फैल सकता है।

प्रदेश में कोरोना संक्रमण चरम पर है। इससे आम लोगों के साथ खाकी वाले भी नहीं बच पाए हैं। प्रदेश में पुलिसकर्मी तेजी से इसकी चपेट में आए हैं। अकेले ग्वालियर जिले की बात करें, तो बीते एक महीने में तेजी से वायरस ने खाकी को चपेट में लिया है। इतना ही नहीं, यह वह पुलिसकर्मी हैं, जो कोरोना से बचाव के लिए टीका लगवा चुके हैं। इसके बाद भी डबल म्यूट वायरस पुलिस जवान और अफसर पर असर छोड़ गया है। कुल 135 पुलिस जवान और अफसर अभी तक कोरोना संक्रमण की मार झेल रहे हैं। हाल ही में एक वरिष्ठ पुलिस आरक्षक की कोरोना से मौत ने भी कई सवाल खड़े कर दिए हैं।

दोनों डोज के बाद भी वायरस कर गया पॉजिटिव

अभी तीन दिन पहले ही ग्वालियर SP अमित सांघी कोरोना पॉजिटिव हुए हैं, जबकि उनको कोविशील्ड वैक्सीन के दोनों डोज लिए 20 से ज्यादा दिन हो चुके थे, लेकिन इसके बाद भी यह वायरस ने उनको चपेट में ले लिया। कोविड पॉजिटिव आने से दो दिन पहले ही वह कोविड आ चुके पुलिस जवानों व अफसरों के घर उनके परिवार का हालचाल जानने पहुंचे थे। हालांकि यह मुलाकात उन्होंने दूर से की थी, लेकिन इसके बाद भी वह चपेट में आ गए।

हाल ही में कोरोना ने फ्रंटलाइन वर्कर पुलिस बिजौली थाना में पदस्थ पुलिस आरक्षक हरवीर सिंह यादव को अपनी चपेट में लिया था। 8 दिन इलाज के बाद हरवीर ने आखिर में तीन दिन पहले कोरोना के चलते दम तोड़ दिया था।इस समय सभी विभागों के कर्मचारी व अफसरों ने कोविड अस्पताल और वार्ड से दूरी बना ली है। स्वास्थ्य विभाग के लोग या डॉक्टर भी PPE किट में रहते हैं, लेकिन जैसे ही कोई घटना हो जाती है, तो जवान और अफसरों को तत्काल मोर्चा संभालने कोविड अस्पताल में अंदर तक जाना पड़ता है। अभी 10 दिन पहले तक ऑक्सीजन की किल्लत से जेएएच के कमलाराजा में हुई ताबड़तोड़ मौत के बाद मचे हंगामे के बीच लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति में पहुंचा एक जवान भी संक्रमित हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!