दो दिन बाद सोमवार को खुले बैंक, पेंशन लेने उमड़े सीनियर सिटीजन, भूले सोशल डिस्टेंस, वायरस की चपेट में आने का खतरा

ग्वालियर/दो दिन से बैंक बंद थे, सोमवार को बैंक खुलते ही पेंशन निकालने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। महाराज बाड़ा पर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में तो यह हाल था कि बैंक में घुसने के लिए लोग एक दूसरे पर चढ़े जा रहे थे। सोशल डिस्टेंस का तो नाम तक नहीं था। हंगामा की सूचना मिलते ही पुलिस बैंक पहुंची। पुलिस ने लोगों को समझाया। साथ ही सोशल डिस्टेंस के साथ लाइन बनाकर वहां व्यवस्था बनाई। जिस पर मास्क नहीं था उसको मास्क भी दिया गया। साथ ही पुलिस समझाइश भी देती रही कि कहीं ऐसा न हो कि पेंशन के साथ कोरोना भी घर ले जाओ।

मई महीने की शुरूआत दो छुटि्टयों के साथ हुई। शनिवार और रविवार को अवकाश के बाद सोमवार को बैंक खुले। बैंक के खुलते ही पेंशन लेने के लिए सीनियर सिटीजन का सैलाब उमड़ पड़ा। सुबह बैंक खुलने से पहले ही महाराज बाड़ा STATE BANK OF INDIA की ब्रांच के बाहर लोगों की भीड़ एकत्रित होना शुरू हो गई। 10 बजे तक यह हाल था कि लोग बैंक में पहले घुसने के लिए एक दूसरे से झगड़ने लगे। इस दौरान न तो वहां कोई सोशल डिस्टेंस दिखा न ही कोरोना का भय नजर आया। लोगों को जल्दी थी तो इस महीने की पेंशन निकालने की। क्योंकि लोगों को एक आशंका थी कि पता नहीं कब से टोटल लॉकडाउन लागू हो जाए। ऐसे में वह घबराए हुए थे।हंगामा और बाड़ा पर बैंक के बाहर भीड़ की सूचना मिलते ही कोतवाली थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने बैंक के बाहर का सीन देखा तो कोविड नियमों की धज्जियां उड़ती हुई नजर आईं। इस पर पुलिस ने सभी को समझाया और लाइन की व्यवस्था बनाई। लाइन में भी एक दूसरे से सोशल डिस्टेंस के साथ खड़े होने के लिए कहा गया। कुछ ही देर में लाइन इतनी लंबी हो गई कि मुख्य मार्ग तक पहुंच गई। पुलिस ने देखा कि कुछ बुजुर्गो के पास मास्क नहीं है तो उनको मास्क का वितरण किया गया। साथ ही समझाया कि अपना ख्याल रखें कहीं ऐसा न हो कि आप पेंशन के साथ में कोरोना घर ले जाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!