कोरोना के लिए घर पर आवश्यक चिकित्सा किट :–

पारासिटामोल ।

बीटाडीन गार्गल- माउथवॉश के लिए ।

विटामिन ‘सी’ और ‘डी’ ।

बी कॉम्प्लेक्स ।

भाप लेने के लिए भाप पात्र, तपेली । चुटकी भर सैंदा नमक की भाप भी ले सकते हैं ।

पल्स ऑक्सीमीटर ।

ऑक्सीजन सिलेन्डर (केवल आपातकाल के लिए) ।

गहरी साँस लेने के व्यायाम करें।

👉कोरोना के तीन चरण:

*केवल नाक में कोरोना

*रिकवरी का समय आधा दिन होता है,
इसमें आमतौर पर बुखार नहीं होता है और इसे असिम्टोमाटिक कहते हैं |
इसमें क्या करें :-
स्टीम इन्हेलिंग करें व विटामिन ‘सी’ लें

*गले में खराश

रिकवरी का समय 1 दिन होता है
इसमें क्या करें : –
गर्म पानी के गरारे करें, पीने में गर्म पानी लें,
अगर बुखार हो तो पारासिटामोल लें |
अगर गंभीर हो तो विटामिन ‘सी’ , बी.काम्पलेक्स और एंटीबायोटिक लें |

फैफड़ों में खांसी

4 से 5 दिन में खांसी और सांस फूलना।
इसमें क्या करें :–
गर्म पानी के गरारे करें, पीने में गर्म पानी लें,
विटामिन ‘सी’ , बी कॉम्प्लेक्स, पारासिटामोल लें और गुनगुने पानी के साथ नींबू का सेवन करें।
ऑक्सीमीटर से अपने ऑक्सीजन लेबल की जाँच करते रहें | अगर आपके पास ऑक्सीमीटर
नहीं हो तो आप किसी भी दवा दुकान में काल कर के होम डिलीवरी लें अथवा
पीएमसीएच में कॉल सकते हैं |
गहरी साँस लेने का व्यायाम करें
अगर समस्या गंभीर हो तो ऑक्सीजन सिलेन्डर मंगाए और डॉक्टर से ऑनलाइन परामर्श लें |

अस्पताल जाने के लिए स्टेज:-

ऑक्सीमीटर से अपने ऑक्सीजन लेवल की जाँच करते रहें । यदि यह 92 ( सामान्य 95 -99 ) के
पास जाता है और आपको कोरोना के लक्षण
(जैसे की बुखार, सांस फूलना इत्यादि) है तो
आपको ऑक्सीजन सिलेंडर की आवश्यकता होती है। इसके लिए तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य सेवा केंद्र पर संपर्क करें व परामर्श लें |

स्वस्थ रहें, सुरक्षित रहें !
कृपया अपने परिवार और समाज का ख्याल रखें | घर पर रहें और सुरक्षित रहें |

ध्यान दें:-

कोरोना वायरस का pH 5.5 से 8.5 तक होता है ।
इसलिए, वायरस को खत्म करने के लिए हमें बस इतना करना हैं कि वायरस की अम्लता के स्तर से अधिक क्षारीय खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

जैसे कि:

केले

हरा नींबू – 9.9 पीएच

पीला नींबू – 8.2 पीएच

एवोकैडो – 15.6 पीएच

लहसुन – 13.2 पीएच

आम – 8.7 पीएच

कीनू – 8.5 पीएच

अनानास – 12.7 पीएच

जलकुंड – 22.7 पीएच

*संतरे – 9.2 पीएच कैसे पता चलेगा कि आप कोरोना वायरस से संक्रमित हैं ?

*गला सूखना

*सूखी खांसी

*शरीर का उच्च तापमान

*सांस की तकलीफ

*सिर दर्द

*बदन दर्द

गर्म पानी के साथ नींबू पीने से वायरस फेफड़ों तक पहुँचने से पहले ही खत्म हो जाते हैं |

इस जानकारी को खुद तक न रखें।
इसे अपने सभी परिवार और दोस्तों और सभी के साथ शेयर करें ।
आपको नहीं पता की इस जानकारी को शेयर करके आप कितनी जान बचा रहे हैं |
इसे शेयर करें और लोगों की मदद करें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!