शिवराज के मंत्री का बेतुका बयान:कोरोना से हो रही मौतें के सवाल पर बोले- उम्र हो जाती है तो मरना भी पड़ता है

मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से हालात बेकाबू हो चुके हें। रोजाना रिकॉर्ड संख्‍या में लोगों की मौत हो रही है। इन मौतों को लेकर शिवराज के एक मंत्री का बेतुका बयान आया है। पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा कि लोगों की उम्र हो जाती है तो मरना भी पड़ता है। मंत्री प्रेम सिंह से कोरोना से हो रही मौतों के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कि मौतें हुई हैं, इन्हें कोई नहीं रोक सकता। कोरोना से बचने के लिए सब लोग सहयोग की बात कर रहे हैं, विधासभा में हम सबसे चर्चा कर रहे हैं। मास्‍क पहनें, दूरी बनाकर रखें, डॉक्‍टर को दिखाएं। हर जगह डॉक्‍टरों की व्‍यवस्‍था की गई है। और आप कह रहे हैं रोजाना बहुत रोग मर रहे हैं तो लोगों की उम्र हो जाती है तो मरना भी पड़ता है। बता दें कि प्रेम सिंह पटेल का यह बयान 14 अप्रैल का है, जिसका वीडियो भी सामने आया है। उनका यह बयान ऐसे समय में आया है, जब राज्‍य में कई जगह अस्‍पतालों से डरावनी तस्‍वीर सामने आ रही है। प्रदेश में अस्पतालों में कोरोना मरीजों को बेड नहीं मिल रहे हैं। श्‍मशान और कब्रिस्‍तान भी अंत्‍येष्टि के लिए जगह कम पड़ती जा रही है। लोगों को कोरोना से जान गंवाने वाले अपने परिजनों के अंत‍िम संस्‍कार के लिए घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। यह स्थिति की भयावहता को बयां करता है। बर्ड फ्लू पर कहा था- बंद कर देंगे मांस की दुकानें मध्य प्रदेश में जनवरी माह में जब बर्ड फ्लू के खतरा मंडला रहा था, तब प्रेम सिंह पटेल ने बयान दिया था कि बर्ड फ्लू के चलते अगर जरूरत पड़ी तो प्रदेश सरकार मांसाहार पर रोक लगा सकती है। इसको लेकर उन्होंने मुख्यमंत्री द्वारा ली गई बैठक का हवाला भी दिया था। जबकि उस बैठक में ऐसी कोई बात तक नहीं हुई थी।

कांग्रेस ने आड़े हाथों लिया

पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल के इस बयान पर आड़े हाथों लिया है। कांग्रेस के प्रवक्ता दुर्गेश शर्मा ने कहा कि प्रेम सिंह मंत्री पद के लायक नहीं है। उन्होंने सवाल किया है कि क्या इनके खिलाफ इस अमानवीय व्यवहार और अमानवीय वक्तव्य पर कोई कानूनी होगी?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!