मंगल का राशि परिवर्तन, वृषभ से मिथुन राशि में गोचर, जानिए किस राशि पर क्या होगा प्रभाव 

मंगल ग्रह वृषभ राशि की यात्रा समाप्त करके 14 अप्रैल को मिथुन राशि में प्रवेश कर रहा है। इस राशि पर 2 जून तक मंगल का गोचर रहेगा। इसके बाद यह ग्रह कर्क में प्रवेश कर जाएगा। मंगल के राशि परिवर्तन का पृथ्वी और पृथ्वी में रहने वाले लोगों पर सीधा असर पड़ता है। मिथुन राशि वायुतत्व की राशि है इसलिए इस राशि में मंगल के जाने से प्राकृतिक आपदाएं, आंधी-तूफान और आगजनी की घटनाओं ज्यादा होंगी। आइए जानते हैं कि हर राशि के लोगों पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा।


मेष राशि

इस राशि के लोगों पर ग्रह परिवर्तन का मिला जुला असर होगा। आप अपने साहस और पराक्रम से कामयाब होंगे। पर, परिवार के वरिष्ठ सदस्यों और भाइयों से मतभेद हो सकते हैं। इसीलिए अपनी जिद और आवेश पर नियंत्रण रखते हुए कार्य करें। कोर्ट कचहरी के मामलों में भी निर्णय आपके पक्ष में आने के संकेत है।

वृषभ राशि

काला धागा और नारियल दूर कर देगा आपकी पैसों की किल्लत, जानिए कई छोटे उपाय जिससे चमक जाएगी किस्मत

इस राशि से लोगों पर इस ग्रह परिवर्तन का सुखद असर होगा। विदेशी मित्रों अथवा संबंधियों से लाभ के योग हैं। काफी दिनों का दिया गया धन भी वापस मिल सकता है। जमीन जायदाद संबंधी मामलों का तो निपटारा होगा किंतु पारिवारिक एवं मानसिक कलह का सामना करना पड़ सकता है। कार्य क्षेत्र में व्यर्थ झगड़े से बचें। वाहन सावधानी पूर्वक चलाएं।

मिथुन राशि


मिथुन मंगल के शत्रु बुध की राशि है इसलिए आपके ऊपर बुरा असर पड़ेगा। आपके स्वभाव में चिड़चिड़ापन आएगा। कार्यक्षेत्र में उच्चाधिकारियों से संबंध न बिगड़ने दें। स्वास्थ्य के प्रति चिंतनशील रहें। यात्रा सावधानीपूर्वक करें, वाहन दुर्घटना से बचें। जमीन-जायदाद से जुड़े मामलों का निपटारा होगा।

कर्क राशि


आपको अत्यधिक खर्च के कारण आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है। विदेशी मित्रों तथा संबंधियों से सुखद समाचार मिलने के योग हैं। विदेशी कंपनियों में सर्विस अथवा नागरिकता के लिए आवेदन करना चाह रहे हैं तो यह अच्छा समय है। कोर्ट कचहरी के मामले में न पड़ें।

सिंह राशि

आय के साधन बढ़ेंगे और दिया गया धन भी वापस मिलने की उम्मीद है। शत्रु परास्त होंगे और कोर्ट कचहरी के मामलों में भी निर्णय आपके पक्ष में आने के संकेत हैं। पारिवारिक कलह से बचें। नवदंपति के लिए संतान प्राप्ति एवं प्रादुर्भाव के भी योग हैं।

कन्या राशि

नौकरी में भी पदोन्नति और मान-सम्मान की वृद्धि होगी किंतु, इसे बनाए रख पाना आपके लिए चुनौती रहेगा। केंद्र अथवा राज्य सरकार के विभागों में प्रतीक्षित कार्यो का निपटारा होगा। विदेशी कंपनियों में नौकरी अथवा नागरिकता के लिए आवेदन करने की दृष्टि से भी ग्रह-गोचर अच्छा है।

तुला राशि

आर्थिक पक्ष मजबूत रहेगा, मकान-वाहन के क्रय का भी योग है। धर्म और अध्यात्म के प्रति रुचि बढ़ेगी। सामाजिक कार्यों में भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे। अपनी ऊर्जाशक्ति और साहस के बलपर कठिन परिस्थितियों पर भी आसानी से नियंत्रण पा लेंगे।

वृश्चिक राशि

इस राशि परिवर्तन के कारण आपका क्रोध बढ़ सकता है और इससे आत्मविश्वास में कमी आएगी। कार्य-व्यापार में निर्णय लेने में विलंब न करें। स्वास्थ्य के प्रति चिंतनशील रहें। कोर्ट-कचहरी तथा विवादित मामले किसी भी तरह से बाहर ही सुलझाने का प्रयास करें। अपनी ऊर्जाशक्ति का सदुपयोग अच्छे कार्यों में करें।

धनु राशि

कार्य व्यापार की दृष्टि से तो समय अपेक्षाकृत बेहतर रहेगा किंतु दांपत्य जीवन में कड़वाहट आ सकती है। शादी-विवाह से संबंधित मामलों में भी थोड़ा विलंब हो सकता है। इस अवधि के मध्य साझा व्यापार करने से बचें। विद्यार्थियों अथवा प्रतियोगिता में बैठने वाले छात्रों के लिए समय अनुकूल है।

मकर राशि

लेनदेन के मामलों में अधिक सावधानी बरतें। विवादित मामलों में निर्णय आपके पक्ष में आने के संकेत। विदेशी संबंधियों और मित्रों से भी सुखद समाचार मिल सकता है। स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही ना बरतें।

कुंभ राशि

शिक्षा प्रतियोगिता में अच्छी सफलता मिलेगी। कार्य व्यापार में भी उन्नति होगी, आय के साधन भी बढ़ेंगे। प्रेम संबंधी मामलों में उदासीनता रहेगी इसलिए समय नष्ट न करें। संतान के दायित्व की पूर्ति होगी। नवदंपत्ति के लिए संतान प्राप्ति एवं प्रादुर्भाव के भी योग।

मीन राशि

पारिवारिक कलह एवं मानसिक अशांति का सामना करना पड़ सकता है। मित्रों तथा संबंधियों से भी अप्रिय समाचार प्राप्ति के योग। माता-पिता के स्वास्थ्य के प्रति चिंतनशील रहें। परिवार के विवादित मामले भी आपस में ही सुलझा लेना समझदारी होगी। जमीन जायदाद से जुड़े मामले हल होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!