मुंबई: नालासोपारा इलाके में कथित ऑक्सीजन की कमी से 7 कोरोना मरीजों की मौत, परिजनों ने किया हंगामा

मुंबई: कोरोना के कहर के राज्यों की स्वास्थ्य व्यवस्था घुटने टेकती नजर आ रहा है. मुंबई के नालासोपारा इलाके से ऐसी खबर आयी है जो आम लोगों की मजबूरी और सिस्टम की लाचारी की कहानी बयां करती है. नालासोपारा इलाके के एक अस्पताल में सात कोरोना मरीजों ने दम तोड़ दिया है. यह सभी मरीज इलाके के विनायक अस्पताल में भर्ती थे. जानकारी के मुताबिक अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी थी. अभी तक अस्पताल की ओर से कोई बयान नहीं आया है.

मुंबई समेत पूरे महाराष्ट्र में कोरोना के हालात बेहद खराब बने हुए हैं. महाराष्ट्र में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 51,751 मामले सामने आए और महामारी से 258 लोगों की मौत हो गई. स्वास्थ्य विभाग द्वारा यह जानकारी दी गई. मुंबई की बात करें तो यहां संक्रमण के 6893 नए मामले सामने आए और 43 मरीजों की मौत हो गई. राज्य में अब तक 28,34,473 मरीज ठीक हो चुके हैं.

लॉकडाउन की राह पर महाराष्ट्र
महाराष्ट्र में पिछले कई दिनों से नए केस की संख्या 50 हजार से ज्यादा है. कोरोना से विकट होती इस गंभीर स्थिति से निपटने के लिए महाराष्ट्र सरकार लगातार कदम उठा रही है. जानकारी के मुताबिक 14 अप्रैल यानी कल से महाराष्ट्र में 14 दिन का लॉकडाउन भी लग सकता है.

कोरोना वायरस से मुंबई पुलिस के उप निरीक्षक की मौत
कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर में यहां मुंबई पुलिस के एक उप निरीक्षक (एसआई) की सोमवार को मौत हो गयी. एक अधिकारी ने सोमवार को इस बारे में बताया. एसआई मोहन डागड़े (52) दो साल से अधिक समय से वकोला थाने में तैनात थे. कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उन्हें इलाज के लिए यहां के सबसे बड़े कोविड-19 केंद्र बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स में भर्ती कराया गया. अधिकारी ने बताया कि सोमवार सुबह उनकी मौत हो गई. पुलिस उपायुक्त (जोन – 8) मंजूनाथ सिंघे ने इसकी पुष्टि की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!