संत महामंडलेश्वर भारती बापू का 93 साल की उम्र में निधन, पीएम ने जताया दुख

गुजरात के जाने-माने संत महामंडलेश्वर भारती बापू का अहमदाबाद के सरखेज इलाके में स्थित भारती आश्रम में रविवार की सुबह निधन हो गया। उनके शिष्यों के मुताबिक 93 वर्ष के बापू का निधन उम्र संबंधी जटिलताओं के कारण हुआ। सौराष्ट्र के जूनागढ़ में स्थित भवनाथ आश्रम में उनको समाधि दी जाएगी। पीएम नरेंद्र मोदी और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने भी इस पर शोक जताया है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया, “मैं 1008 महामंडलेश्वर भारती बापू के निधन से बहुत दुखी हूं। हम नशामुक्ति के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन शुरू करने के उनके योगदान को कभी नहीं भूल सकते हैं। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे और उनके अनुयायियों को यह दुख सहने का साहस दे। ”

देश के संत समाज में भारती बापू का बड़ा नाम है और गुजरात में उनके लाखों भक्त हैं। सौराष्ट्र में होने वाले आध्यात्मिक सामाजिक तथा सांस्कृतिक जागरण के कार्यक्रमों में भारती बापू का उल्लेखनीय योगदान रहा है।

सौराष्ट्र के जूनागढ़ में हर साल होने वाले शिवरात्रि महोत्सव के आयोजन में भारती बापू की अहम भूमिका होती थी। इस मेले में देशभर से लाखों की संख्या में साधु, संत, नागा बाबा और श्रद्धालु आते हैं। गिरनार की तलहटी में बने भगवान शिव के मंदिर दर्शन के लिए हर साल लोगों का यहां आने का तांता लगा रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!