घर में आप कितना पैसा Cash रख सकते हैं, जानिये क्‍या कहता है नियम



घर में कैश रखने की लिमिट तय नहीं है। लेकिन, घर में रखे कैश का सोर्स बताना जरूरी है।

केंद्र सरकार लगातार देश में डिजिटल पेमेंट को बढ़ाने की कोशिश कर रही है। डिजिटल इकोनॉमी को बढ़ावा देने के लिए सरकार लगातार कदम उठा रही है। इस कड़ी में लगातार कैश ट्रांजैक्शन से जुड़े नियम सख्त होते जा रहे है। आज के समय में सभी लेन-देन के लिए डिजिटल पेमेंट करना ही ज्यादा सुविधाजनक और सुरक्षित है। कैश के जरिए बड़े लेन-देन करने पर आप कभी भी मुसीबत में फंस सकते हैं। हालांकि, घर में कैश रखने की लिमिट तय नहीं है। लेकिन, घर में रखे कैश का सोर्स बताना जरूरी है। यहां हम आपको कैश में लेन-देन से जुड़े सभी नियमों की जानकारी दे रहे है।

बैंक में सेविंग अकाउंट को लेकर नियम बदले

एक बार में 50,000 रुपए से ज्यादा कैश जमा करने या निकालने पर पैन कार्ड नंबर देना जरूरी है। कैश में पे-ऑर्डर या डिमांड ड्राफ्ट भी बनवा रहे हैं तो पे ऑर्डर-DD के मामले में भी पैन नंबर देना होगा।

टैक्स एक्सपर्ट्स के अनुसार मार्च 2020 में करीब 24-25 लाख करोड़ रुपये चलन में थे। वहीं, जनवरी 2021 में ये बढ़कर 27 लाख करोड़ रुपये के करीब पहुंच गए। इसके बाद इनकम टैक्स नियमों को सख्त किया गया और कई प्रतिबंध भी लगाए गए है।

(1) 20 हजार रुपये से ऊपर कैश में लोन नहीं लिया जा सकता है।

(2) मेडिकल खर्च में 5000 रुपये से ज्यादा कैश में खर्च करने पर टैक्स में छूट नहीं मिलेगी।

(3) 50 हजार रुपये से ऊपर की रकम फॉरेन एक्सचेंज में नहीं बदली जाएगी।

(4) कैश में 2000 रुपये से ज्यादा का चंदा या दान नहीं दिया जा सकता है।

(5) बिजनेस के लिए 10 हजार रुपये से ऊपर कैश में खर्च करने पर रकम को आपके मुनाफे की रकम में जोड़ी जाएगी।

(6) 2 लाख रुपये से ऊपर कैश में कोई खरीदारी नहीं की जा सकती।

(7) बैंक से 2 करोड़ रुपये से ज्यादा कैश निकालने पर टीडीएस लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *