दिल्ली में रात 10 से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू, लखनऊ में धारा 144

दिल्ली। कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने भी नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया है। रात 10:00 बजे से लेकर सुबह 5:00 बजे तक दिल्ली में नाइट कर्फ्यू रहेगा। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होकर 30 अप्रैल तक रहेगा। बता दें, दिल्ली में भी कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। इस बीच, उत्तर प्रदेश की राजनाधीनी लखनऊ में धारा 144 लागू कर दी गई है। इसके पीछे नियंत्रण के बाहर हो रहे कोरोना वायरस के नए संक्रमण के साथ ही पंचायत चुनाव का कारण बताया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिला तथा पुलिस प्रशासन को इसका सख्ती से पालन कराने का निर्देश दिया है। लखनऊ में पांच मई तक धारा 144 लागू रहेगी। इस दौरान एक स्थान पर पांच से अधिक लोग एकत्र नहीं होंगे। इसका उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

राजधानी दिल्ली में नाइट कर्फ्यू को लेकर अधिकारियों ने रिपोर्ट बनाकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सौंपी थी। इस बीच केंद्र सरकार ने भी लगातार सक्रिय है।सोमवार को कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र ने सार्वजनिक स्वास्थ्य की 50 उच्चस्तरीय टीमें गठित की हैं। इन टीमों को महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ तथा पंजाब के 50 जिलों में तैनात किया जा रहा है। रविवार को रिकॉर्ड एक लाख से ज्यादा नए मामले सामने आने के बाद सोमवार की देर रात तक मिले आंकड़ों में इनकी संख्या एक लाख से नीचे आ गई है। बीते 24 घंटों में 96,556 नए मामले मिले हैं, 50,084 मरीज ठीक हुए हैं और 445 और मरीजों की मौत हुई है। कुल संक्रमितों का आंकड़ा 1.27 करोड़ के करीब पहुंच गया है। इनमें से 1.17 करोड़ से ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं और 1,65,577 लोगों की जान भी जा चुकी है। सक्रिय मामले लगातार बढ़ रहे हैं और वर्तमान में इनकी संख्या 7,83,846 हो गई है।

बीते 24 घंटों में 96,982 नए केस, 446 की मौत, इन राज्यों में हाल-बेहाल

देश में कोरोना का संकट तेजी से गहरा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बीते 24 घंटों में देश में कोरोना के 96,982 नए मरीज सामने आए हैं। इस दौरान 446 मरीजों की जान गई है। साथ ही 50,143 मरीज स्वस्थ्य होकर अपने घर लौटे हैं। सरकार के मुताबिक, अब तक देश में कोरोना के कुल मामले 1,26,86,049 हो गए हैं। महामारी को मात देने वालों का आंकड़ा 1,17,32,279 है जबकि 7,88,223 एक्टिव केस हैं यानी इतने मरीजों का इलाज चल रहा है या क्वारंटाइन हैं। अब तक देश में कोरोना के कारण 1,65,547 लोगों की जान जा चुकी है।

महाराष्ट्र में 10 हजार कम हुए नए केस

महाराष्ट्र में एक दिन पहले के मुकाबले सोमवार को नए मामलों में 10 हजार की कमी आई। रविवार को राज्य में 57 हजार से अधिक नए केस मिले थे, सोमवार को 47,288 नए मामले पाए गए। इस दौरान 155 और मरीजों की जान गई, जो रविवार के 222 मौतों की तुलना में बहुत कम है। ठाणे में शिवसेना के पूर्व नेता सुनील वयाले के खिलाफ कोरोना उल्लंघन के मामले में केस दर्ज किया गया है। वयाले ने अपनी बेटी की शादी में निर्धारित 50 से ज्यादा लोगों को बुलाया था। मुंबई पुलिस ने महानगर में सुबह सात बजे से रात आठ बजे तक सीआरपीसी की धारा 144 लगा दी है। यह 30 अप्रैल तक प्रभावी है, इसमें सार्वजनिक स्थलों पर एक साथ पांच या उससे अधिक लोगों के जमा होने पर रोक है।

कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में आए महाराष्ट्र में लॉकडाउन के कदम से अर्थव्यवस्था को 40 हजार करोड़ रुपये की चोट लगेगी। होटल और ट्रांसपोर्ट जैसे सेक्टर इसका सबसे ज्यादा दबाव झेलेंगे। केयर रेटिंग्स की रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। देश में सामने आ रहे कुल नए मामलों में करीब 60 फीसद महाराष्ट्र से हैं। रेटिंग एजेंसी ने बताया कि आर्थिक गतिविधियों पर असर से राष्ट्रीय स्तर पर ग्रॉस वैल्यू एडेड (जीवीए) की विकास दर पर भी असर पड़ेगा। एजेंसी ने जीवीए का अनुमान 11.2 फीसद से घटाकर 10.9 फीसद कर दिया है।

छत्तीसगढ़ में 7000 से ज्यादा नए केस

महाराष्ट्र से उलट छत्तीसगढ़ में अचानक संक्रमण के नए मामलों में उछाल आ गया है और इनकी संख्या 7,302 पर पहुंच गई है। इसके अलावा कर्नाटक में 5,279, उत्तर प्रदेश में 3,974, तमिलनाडु में 3,672, दिल्ली में 3,548, मध्य प्रदेश में 3,398, गुजरात में 3,160 और पंजाब में 2,692 नए मामले पाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!