छत्‍तीसगढ़ नक्‍सली हमले पर बोले राहुल गांधी- हमारे जवान तोपों का चारा नहीं कि जब चाहें शहीद कर दिए जाएं

नई दिल्‍ली
पूर्व कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को लगता है कि छत्‍तीसगढ़ में नक्‍सलियों के खिलाफ शुक्रवार-शनिवार जो ऑपरेशन चला, वह ठीक से डिजाइन नहीं किया गया था। बीजापुर जिले से लगते जंगलों में नक्‍सलियों ने घात लगाकर सुरक्षा बलों पर हमला किया था। इसमें कम से कम 23 जवान शहीद हुए हैं। राहुल ने कहा कि अगर कोई खुफिया असफलता नहीं थी तो एक जवान के बदले एक नक्‍सली का मारा जाना यह बताता है कि यह खराब तरीके से डिजाइन किया गया ऑपरेशन था जिसे अंजाम भी उतने ही बेकार ढंग से किया गया।

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में कहा कि ‘हमारे जवान तोपों के लिए कोई चारा नहीं हैं कि उन्‍हें जब चाहें, तब शहीद होने के लिए भेज दिया जाए।’ इससे पहले, छत्‍तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने रविवार को कहा था कि यह हमला इंटेलिजेंस फेल्‍योर नहीं है। उनके मुताबिक, नक्‍सलियों का प्रभाव लगातार सिमट रहा है और अब उनका असर एक सीमित इलाके में रह गया है।

पहुंच रहे शाह, करेंगे रिव्‍यू मीटिंग
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह सोमवार को उस जगह जा रहे हैं, जहां नक्‍सलियों ने हमला किया था। इसके बाद वह सुरक्षा हालात की समीक्षा के लिए एक बैठक भी करेंगे। शाह का अस्‍पताल में घायलों से मिलने का भी प्‍लान है। शाह और बघेल, दोनों हमले में शहीद हुए सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि देने के लिए रायपुर में एक कार्यक्रम में शामिल होंगे।

सीआरपीएफ, डीआरजी, एसटीएफ की कई टीमें एक नक्‍सली कमांडर की तलाश में सर्च ऑपरेशन चला रही थीं। वापस लौटते समय नक्‍सलियों ने हमला कर दिया। जहां हमला हुआ वह घने जंगलों वाला इलाका है और नक्‍सलियों का क्षेत्र माना जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!