नवदुर्गा में वैष्णोंदेवी जाने वाली ट्रेनें फुल, रेलवे चलाएगा तीन स्पेशल गाड़ियां

आखिरकार एक बार फिर लोगों ने बता दिया है कि दहशत पर भगवान की भक्ति भारी है। कोरोना के लगातार बढ़ते मामले और शासन की हिदायतों के बाद भी कुंभ और वैषणोदेवी जाने वाली ट्रेनों में जगह नहीं है। 12 को कुंभ में शाही स्नान है। 13 अप्रैल से नवरात्र शुरू हो रही हैं। ऐसे में हरिद्वार और वैष्णोदेवी जाने वाली सभी ट्रेनों में लंबी वेटिंग मिल रही है। रेलवे भी नवदुर्गा में तीन स्पेशल ट्रेन चलाने की घोषणा कर चुका है।

मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र में कोरोना की दूसरी लहर ने कहर मचा दिया है। दोनों जगहों पर लॉकडाउन लगाया गया है। भोपाल, इंदौर व जबलपुर की हालत तो और भी ज्यादा खराब है। हर रविवार को लॉकडाउन लगाया जा रहा है। इस बीच लोगों की भगवान की भक्ति में कमी नहीं आई है। शहर से लोग लगातार वैष्णो धाम जम्मू जाने के लिए रिजर्वेशन करा रहे हैं। इसके साथ ही अभी हरिद्वार में चल रहे कुंभ में भी सैकड़ों की संख्या में लोग पहुंच रहे हैं।

13 से नवदुर्गा, ट्रेनों में 150 से 200 वेटिंग

13 अप्रैल से नवदुर्गा शुरू हो जाएंगी। ऐसे में वैष्णोदेवी धाम पर रिकॉर्ड भीड़ पहुंचती है। ग्वालियर से भी काफी संख्या में समूहों में लोग वैष्णोधाम के लिए जाते हैं। यही कारण है कि ट्रेनों में नवदुर्गा के समय जगह नहीं मिल रही है। जैसे- ग्वालियर से जम्मू के लिए यह स्थिति है। कोरोना की चाहे दूसरी लहर से कई प्रदेश में संकट हो, लेकिन रेलवे नवदुर्गा के समय लोगों को वैष्णोधाम जाने के लिए तीन स्पेशल ट्रेन चलाने जा रहा है। यह तीनों स्पेशल ट्रेन नवरात्र में चलेंगी।

सीएम श‍िवराज की अपील-कोविड से मुकाबले के लिए सब एक हो जाएं, लॉकडाउन को लेकर कही ये बात

मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्‍य प्रदेश में बढते कोरोना वायरस संक्रमण के बीच सभी धर्मगुरुओं, समाजसेवी संस्थाओं, मीडिया के मित्रों से अपील की है।उन्‍होंने कहा क‍ि नये लोग संक्रमित न हों, इसके लिए लॉकडाउन आवश्यक है, लेकिन मैं लंबा लॉकडाउन नहीं चाहता हूं।एक दिन के लॉकडाउन से भी काम चल सकता है, यह तब संभव है, जब जनता पूरी तरह से सहयोग करे। सहयोग का अर्थ है कि आप मास्क लगायें

श‍िवराज ने आज कहा कि जब मानवता पर संकट हो, तो सभी राजनीतिक दलों के नेताओं को एकजुट होकर जनसेवा में लगना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि मैं सभी धर्मगुरुओं, समाजसेवी संस्थाओं, मीडिया के मित्रों से अपील करूंगा कि सारे मतभेद भूलकर कोविड रूपी संकट से मुकाबला करने के लिए एक हो जाएं।

श‍िवराज ने आज कहा कि जब मानवता पर संकट हो, तो सभी राजनीतिक दलों के नेताओं को एकजुट होकर जनसेवा में लगना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि मैं सभी धर्मगुरुओं, समाजसेवी संस्थाओं, मीडिया के मित्रों से अपील करूंगा कि सारे मतभेद भूलकर कोविड रूपी संकट से मुकाबला करने के लिए एक हो जाएं।

श‍िवराज ने कहा मैं प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष जी से भी बात करूंगा। मैं इस समय अपील करना चाहता हूं, कोई भी मतभेद नहीं होने चाहिए। जब मानवता पर संकट हो, तो राजनीतिक दलों की सीमाओं से उठके हम कोई जाति हों, कोई धर्म हो, कोई उपासना पद्धति हो, सब धर्म गुरुओं से अपील करूंगा। समाजसेवियों से अपील करूंगा, राजनीतिक दलों से अपील करूंगा, पत्रकार मित्रों से अपील करूंगा, मीडिया हाउसेस से अपील करूंगा इस समय सारे मतभेद भूल जाओ।

इस समय एक महामारी का मुकाबला हमें करना है। इसलिए पूरी मानवता एक हो जाए, इकट्ठी हो जाए और हम सब मिलकर इसका मुकाबला करें बिना जन अभियान के संक्रमण को रोका नहीं जा सकता, क्योंकि संक्रमण जब हम खुले घूमते हैं तब होता है इसलिए सबको जुटना पड़ेगा।

मैं मीडिया के मित्रों से भी प्रार्थना कर रहा हूं. सारे मीडिया हाउसेस से भी प्रार्थना कर रहा हूं. आप सब से प्रार्थना कर रहा हूं आइए इस अभियान में हम सब साथ मिलकर जुटें।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 5 अप्रैल को सायंकाल भोपाल नगर में विभिन्न स्थानों पर जाकर स्वयं जनता से मास्क लगाने व कोरोना संबंधी अन्य सावधानियों का पालन करने की अपील करेंगे।

कोरोना के‍ विरूद्ध जन-जागरूकता अभियान के अंतर्गत मुख्यमंत्री श्री चौहान सायं 6 बजे बरखेड़ा क्षेत्र से खुले वाहन में निकलेंगे तथा जनता से अपील करते हुए महाराणा प्रताप नगर, 10 नंबर, बिट्टन मार्केट, न्यू मार्केट, बुधवारा, हमीदिया अस्पताल, रॉयल मार्केट आदि क्षेत्रों से होते हुए बैरागढ़ पहुंचेंगे।

इस दौरान वे सभी से मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों से वैक्सीन लगवाने आदि के संबंध में अपील करेंगे।

शादी के घर प्रतिबंधित पशु काटे जाने की सूचना पर मचा हड़कंप, फिर..

पीलीभीत के भिखारीपुर में एक घर में विवाह समारोह के दौरान प्रतिबंधित पशु काटे जाने की सूचना पर हड़कंप मच गया। आनन फानन में इंस्पेक्टर सुनगढ़ी फोर्स के साथ पहुंच गए। पुलिस ने घर को घेरकर तलाशी ली,हालांकि घर पर भैंस का मीट और पशु काटने के उपकरण बरामद हुए। जिसकी परमीशन भी ली गई।

सोमवार सुबह आठ बजे एक युवक ने पुलिस कंट्रोल रूम के नंबर 112 पर कॉल की। फोनकर्ता ने भिखारीपुर क्षेत्र के मोहल्ला कुरैशियान में एक घर में कसाई बुलाकर प्रतिबंधित पशु का वध किए जाने की सूचना दी। सूचना पर इंस्पेक्टर सुनगढ़ी श्रीकांत द्विवेदी फोर्स के साथ पहुंचे। पुलिस ने घर को चारों ओर से घेर लिया।

इसके बाद घर की तलाशी ली गई तो आंगन में एक भैंस कटी हुई मिली। पुलिस ने पूरे मामले की वीडियोग्राफी भी करवाई। भैंस काटने की अमरिया के पशु चिकित्साधिकारी के द्वारा अनुमति भी दी गई थी। सूचना पर सीओ सिटी भी भिखारीपुर पहुंच गए। इंस्पेक्टर श्रीकांत द्विवेदी ने बताया कि किसी ने फर्जी सूचना पुलिस को दे दी थी। विवाह के दौरान अनुमति लेकर ही भैंस का वध किया गया था।

इटावा: फर्जी प्रमाण पत्रों के जरिए नौकरी पाने वाले 38 शिक्षक बर्खास्त, FIR दर्ज

इटावा: उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में फर्जी प्रमाण पत्रों के जरिए प्राथमिक शिक्षकों की नौकरी पाए 38 लोगों को बर्खास्त कर उनके खिलाफ अपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं। एसआईटी जांच के बाद शिक्षा विभाग के आदेश के बाद यह मुकदमे दर्ज किए गए हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डा.ब्रजेश सिंह ने बताया कि बीएड प्रशिक्षण का फर्जी प्रमाणपत्र लगाकर प्राइमरी स्कूल में नौकरी कर रहे शिक्षकों के खिलाफ इटावा में अलग-अलग थानों में मुकदमा दर्ज कराया गया है जिनकी जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

बेसिक शिक्षा खंड शिक्षा अधिकारी राजेश चौधरी ने बताया कि डॉ. भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा बीएड सत्र 2004 -2005 के फर्जी प्रमाणपत्र होने के कारण 10 अध्यापकों की बर्खास्तगी के बाद एफआईआर दर्ज कराई गई है। इससे पहले डॉ. भीमराव आंबेडकर आगरा विश्व विद्यालय से वर्ष 2004-2005 की बीएड की फर्जी अंकतालिका और प्रमाणपत्र लगाने पर 10 बेसिक शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया है। ये शिक्षक जसवंतनगर विकास खंड के परिषदीय विद्यालयों में तैनात हैं।

इन शिक्षकों की नियुक्ति वर्ष 2008 से 2012 के बीच जिले के विद्यालयों में की गई थी। शासन स्तर से कराई गई एसआईटी जांच में इन शिक्षकों की डॉ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा बीएड सत्र 2004-05 का प्रमाण पत्र फर्जी पाया गया। एसआइटी और जनपद स्तरीय जांच समिति की जांच में शैक्षिक अभिलेखों के फर्जी मिलने पर 38 शिक्षकों पर मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने दिए थे।

एक पैर से बंगाल जीतूंगी और दो पैर से दिल्ली, ममता बनर्जी ने जताए PM बनने के इरादे

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्य में चल रहे विधानसभा चुनावों में जोर-शोर से प्रचार में जुटी हुई हैं। पैर में चोट होने के बावजूद ममता व्हीलचेयर पर रोड शो और रैलियां कर रही हैं। सोमवार को हुगली में एक रैली के दौरान ममता बनर्जी ने कहा कि वह एक पैर से बंगाल जीतेंगी। इतना ही नहीं उन्होंने भविष्य में प्रधानमंत्री बनने का भी इरादा जाहिर किया। 

ममता ने हुगली में रैली के दौरान कहा, ‘मैं अपने एक पैर पर बंगाल जीतूंगी और भविष्य में मैं अपने दो पैरों पर दिल्ली में जीत हासिल करूंगी’। 

ममता ने राज्य में आठ चरणों में चुनाव कराए जाने का भी विरोध किया। उन्होंने कहा, ‘आठ चरण में चुनाव कराने की क्या जरूरत थी? यह भाजपा मंडल द्वारा किया गया था। वर्तमान में कोरोना की स्थिति को देखते हुए क्या उन्हें थोड़े समय के भीतर ही चुनाव संपन्न नहीं करना चाहिए था?’

बता दें कि बीते महीने नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान ममता बनर्जी को पैर में चोट लगी थी।  ममता ने आरोप लगाया था कि उनपर जानबूझकर यह हमला किया गया था। हालांकि, बाद में पर्यवेक्षकों ने चुनाव आयोग को सौंपी रिपोर्ट में कहा था कि ममता को हादसे में चोट लगी थी उनपर हमले का कोई सबूत नहीं मिला था। आयोग को भेजी गई रिपोर्ट में कहा गया था कि नंदीग्राम में 10 मार्च को ममता बनर्जी को कार के दरवाजे से चोट लगी।

राम सेतु के सेट पर कोरोना का कहर, 45 जूनियर आर्टिस्ट्स पॉजिटिव, टली अक्षय की फिल्म की शूटिंग

एक्टर अक्षय कुमार ने रव‍िवार को अपने कोरोना पॉज‍िट‍िव होने की खबर दी थी. अब खबर है कि उनकी फिल्म राम सेतु के सेट पर 45 लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं. सभी इस वक्त क्वारनटीन में हैं. इतनी बड़ी संख्या में सेट के लोगों का कोरोना पॉज‍िट‍िव पाए जाना फिल्म के लिए मुसीबत का सबब बन सकता है. 

टाइम्स ऑफ इंड‍िया की रिपोर्ट के मुताबिक, सोमवार 5 अप्रैल को 100 लोग राम सेतु के सेट पर अपना काम शुरू करने वाले थे. ये सभी मड आईलैंड में फिल्म के सेट को ज्वॉइन करने वाले थे. लेक‍िन फिल्म ज्वॉइन करने से पहले कोरोना टेस्ट रिपोर्ट में 45 जूनियर आर्ट‍िस्ट्स कोरोना पॉज‍िट‍िव निकले, जिसके बाद उन्हें क्वारनटीन में रख दिया गया. फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंड‍िया सिने एंप्लॉइज (FWICE) के जेनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे ने कहा- ‘राम सेतु की टीम पूरी सावधानी बरत रही है. यह बदकिस्मती है कि जूनियर आर्ट‍िस्ट्स एसोस‍िएशन के 45 लोग कोरोना पॉज‍िट‍िव पाए गए हैं. वे सभी क्वारनटीन में हैं’.   

फ‍िल्म की शूट‍िंग 13-14 द‍िनों के ल‍िए पोस्टपोन  

अक्षय समेत 45 जूनियर आर्ट‍िस्ट्स के कोविड-19 पॉज‍िट‍िव होने के बाद अब सोमवार को होने वाली फिल्म की शूट‍िंग टल गई है. टाइम्स ऑफ इंड‍िया ने सूत्र के हवाले से बताया कि अब फिल्म की शूट‍िंग 13-14 दिनों के बाद ही शुरू होगी. मालूम हो कि अक्षय कुमार कोरोना पॉज‍िट‍िव पाए जाने से पहले मड आईलैंड में राम सेतु की शूट‍िंग कर रहे थे. उनमें टेस्ट से पहले कोई लक्षण नहीं थे और बिल्कुल फिट थे. 

कोरोना से बचने के ल‍िए अब तक लाखों रुपये खर्च  

सूत्र ने ये भी कहा- ‘सावधानी के तौर पर शूट‍िंग से कुछ दिनों पहले कोरोना का टेस्ट किया जाता है. जो कोरोना टेस्ट में पास नहीं होते उन्हें आईसोलेटेड रखा जाता है लेक‍िन राम सेतु के निर्माता उन्हें पैसे भी देते हैं. फिल्म की यूनिट इतनी सतर्क है कि अगर किसी शख्स की तबियत अगर ठीक नहीं है तो उन्हें यूनिट द्वारा की गई व्यवस्था में अलग रखा जाता है. राम सेतु के सेट पर PPE किट्स भारी तादाद में मिलेंगे. राम सेतु की शूट‍िंग के पहले दिन से ही कोरोना के टेस्ट और आईसोलेशंस पर लाख रुपये से ज्यादा खर्च किया जा चुका है’. 

अक्षय कुमार के बारे में बताते हुए सूत्र ने आगे कहा-  ‘अक्षय ने कई बार अपना टेस्ट करवाया और सेफ्टी प्रोटोकॉल को लेकर वे बहुत सतर्क हैं. पर लगता है अपनी दूसरी लहर में कोरोना वायरस हर किसी की जिंदगी में उथल-पुथल लाने का प्लान लेकर बैठा है.’

जम्मू-कश्मीर पुलिस को बड़ी सफलता: आईएसजेके कमांडर मलिक गिरफ्तार, पूछताछ जारी

आतंकियों के खिलाफ जम्मू-कश्मीर पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। एक बड़े ऑपरेशन में एसओजी ने आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट ऑफ़ जम्मू एंड कश्मीर(आईएसजेके) के आतंकी को गिरफ्तार किया है। उसके पास से एक पिस्तौल, आठ कारतूस और एक लाख 13 हजार रुपये की नगदी भी मिली है। आतंकी की पहचान मलिक उमैद अब्दुल्ला निवासी यारीपोरा, कुलगाम के रूप में हुई है।

बता दें कि जम्मू पुलिस को आतंकी गतिविधि की सूचना मिली थी। इसी के आधार पर एसओजी ने अभियान शुरू किया था। जिसमें झज्जर कोटली में नाका लगाया गया। वाहन की जांच के दौरान आंतकी ने भागने की कोशिश की।

इसके बाद जवानों ने उसका पीछा किया और पकड़ने में सफलता पाई। इस संबंध में पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। आतंकी से पूछताछ जारी है। संभावना जताई जा रही है कि आईएसजेके कमांडर मलिक उमैद अब्दुल्ला की गिरफ्तारी होने से कई बड़े खुलासे भी हो सकते हैं।

पंजाब से मुख्तार की विदाई : सड़क मार्ग से होगी विधायक की रवानगी, रास्ते पर यूपी-पंजाब पुलिस ने साधी चुप्पी

यूपी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की सोमवार पांच अप्रैल को पंजाब से विदायगी हो जाएगी। अंसारी को यूपी ले जाने के लिए बांदा पुलिस कुछ ही देर में पंजाब पहुंचने वाली है। मुख्तार रोपड़ जेल में बंद है। अंसारी को सड़क के रास्ते ले जाया जाएगा। रोपड़ से बांदा की दूरी लगभग 900 किलोमीटर है। यूपी से रवाना हुई टीम में एडीजी और चित्रकूट के आईजी शामिल हैं। सुप्रीम कोर्ट ने अंसारी को बांदा जेल में स्थानांतरित करने का आदेश दिया है। इस संबंध में पंजाब के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) ने यूपी के अतिरिक्त मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी को लिखे पत्र में कहा है कि न्यायालय के निर्देश के अनुसार 8 अप्रैल से पहले अंसारी को यूपी की बांदा जेल में शिफ्ट किया जाना है। उन्होंने इसके लिए उचित प्रबंध करने का आग्रह किया है। उन्होंने अंसारी की सेहत का पत्र में जिक्र किया है और कहा है कि शिफ्टिंग के दौरान उसकी मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति का भी ध्यान रखा जाए।

रविवार को यूपी पुलिस की इनोवा रोपड़ जेल पहुंची थी। हालांकि मीडिया को देख कर गाड़ी आगे निकल गई। इसके कुछ ही मिनट बाद गाड़ी दोबारा जेल के सामने से निकली। रायबरेली नंबर की इस इनोवा में यूपी पुलिस के अधिकारी थे। रोपड़ के एसएचओ सिटी राजीव चौधरी ने गाड़ी को रोककर पूछताछ की। हालांकि इस बारे में कोई भी जानकारी मीडिया को नहीं दी गई।

पंजाब पुलिस के जवान भी जाएंगे अंसारी के साथ 
विधायक मुख्तार अंसारी की सुरक्षा को लेकर पंजाब सरकार बेहद गोपनीयता बरत रही है। जेल अधिकारी भी मुख्तार को लेकर कुछ भी बताने से इनकार कर रहे हैं। अधिकारियों का कहना है कि सुरक्षा कारणों से मुख्तार को पंजाब से यूपी ले जाने वाला रूट प्लान बेहद गोपनीय रखा गया है। मुख्तार की रवानगी के दौरान पंजाब पुलिस के कुछ जवान भी शामिल होंगे।

इससे पहले रविवार को एक नाटकीय घटनाक्रम में यूपी नंबर की जिस एंबुलेंस से अंसारी को मोहाली की अदालत में पेश किया गया था, वह रोपड़-मनाली हाईवे मार्ग पर एक ढाबे के पास लावारिस हालत में खड़ी मिली। इस एंबुलेंस के पंजीकरण में लगाए गए दस्तावेज फर्जी पाए गए हैं। पंजाब पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जांच की।    
चित्रकूट धाम के पुलिस महानिरीक्षक के सत्यनारायण ने मीडिया को बताया कि मुख्तार को पंजाब से लाने के लिए बांदा पुलिस 5 अप्रैल को रवाना होगी। इसके लिए पर्याप्त सुरक्षा प्रबंध किए जा रहे हैं। वहीं, अंसारी के भाई अफजाल अंसारी ने मुख्तार की सुरक्षा पर चिंता जताते हुए कहा कि अब इसकी जिम्मेदारी न्यायपालिका और योगी सरकार पर होगी।

छत्‍तीसगढ़ नक्‍सली हमले पर बोले राहुल गांधी- हमारे जवान तोपों का चारा नहीं कि जब चाहें शहीद कर दिए जाएं

नई दिल्‍ली
पूर्व कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को लगता है कि छत्‍तीसगढ़ में नक्‍सलियों के खिलाफ शुक्रवार-शनिवार जो ऑपरेशन चला, वह ठीक से डिजाइन नहीं किया गया था। बीजापुर जिले से लगते जंगलों में नक्‍सलियों ने घात लगाकर सुरक्षा बलों पर हमला किया था। इसमें कम से कम 23 जवान शहीद हुए हैं। राहुल ने कहा कि अगर कोई खुफिया असफलता नहीं थी तो एक जवान के बदले एक नक्‍सली का मारा जाना यह बताता है कि यह खराब तरीके से डिजाइन किया गया ऑपरेशन था जिसे अंजाम भी उतने ही बेकार ढंग से किया गया।

राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में कहा कि ‘हमारे जवान तोपों के लिए कोई चारा नहीं हैं कि उन्‍हें जब चाहें, तब शहीद होने के लिए भेज दिया जाए।’ इससे पहले, छत्‍तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने रविवार को कहा था कि यह हमला इंटेलिजेंस फेल्‍योर नहीं है। उनके मुताबिक, नक्‍सलियों का प्रभाव लगातार सिमट रहा है और अब उनका असर एक सीमित इलाके में रह गया है।

पहुंच रहे शाह, करेंगे रिव्‍यू मीटिंग
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह सोमवार को उस जगह जा रहे हैं, जहां नक्‍सलियों ने हमला किया था। इसके बाद वह सुरक्षा हालात की समीक्षा के लिए एक बैठक भी करेंगे। शाह का अस्‍पताल में घायलों से मिलने का भी प्‍लान है। शाह और बघेल, दोनों हमले में शहीद हुए सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि देने के लिए रायपुर में एक कार्यक्रम में शामिल होंगे।

सीआरपीएफ, डीआरजी, एसटीएफ की कई टीमें एक नक्‍सली कमांडर की तलाश में सर्च ऑपरेशन चला रही थीं। वापस लौटते समय नक्‍सलियों ने हमला कर दिया। जहां हमला हुआ वह घने जंगलों वाला इलाका है और नक्‍सलियों का क्षेत्र माना जाता है।