Nexzu Mobility की ई-साइकिल, 50 रुपये में चलेंगी 1000 किलोमीटर, जानिए फीचर्स और कीमत 


इस ई-साइकिल के दोनों वैरिएंट्स 2.5 से 3 घंटे में फुल चार्ज हो जाते हैं. Roadlark की ड्राइविंग रेंज 80 किलोमीटर की है वहीं Rompus+ की ड्राइविंग रेंज 30 किलोमीटर की है. Roadlark थ्रोटल मोड में 55 किलोमीटर और पेडल मोड में 65 किलोमीटर की रेंज देती है.

नई दिल्ली. भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स का चलन जोरों पर है. एक रिपोर्ट के अनुसार 2018 में भारत सरकार की तरफ से बनायी गयी इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की नीतियों के बाद इस सेक्टर में उछाल देखने को मिला है. पेट्रोल डीजल के दामों में उछाल के बाद लोग इलेक्ट्रिक व्हीकल की तरफ ज्यादा आकर्षित हो रहे हैं. नेक्सजू मोबिलिटी पुणे की एक स्टार्टअप कंपनी है जिसने भारत में इलेक्ट्रिक साइकिल को पेश किया है. इस कंपनी को 2015 में अतुल्य मित्तल ने शुरू किया था. इस वेंचर का नाम पहले अवान मोटर्स था जो की इलेक्ट्रिक साइकिल और स्कूटर बेचा करता था. 

अतुल्य का कहना है की ये इलेक्ट्रिक साइकिल बहुत सस्ती है और इसको चलने का खर्च भी बिलकुल न के बराबर आता है. इस साइकिल को 1 किलोमीटर चलाने में सिर्फ 0.2 रुपये का खर्च आता है जबकि पेट्रोल डीजल से चलने वाले वाहनों में ये खर्च 1.50 रुपये प्रति किलोमीटर से ज्यादा होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *