सास ने बहू को घर से निकाला, कहा- घर में रहना है तो देने होंगे 10 हजार रुपये

ग्वालियर के हजीरा थाना क्षेत्र से इंसानियत को शर्मिंदा कर देने वाला एक मामला सामने आया है, जहां एक नौकरीपेशा महिला ने पुलिस में अपनी सास-ससुर और जेठ के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाते हुए कहा कि उनके सुसराल वालों ने उसे घर से निकाल दिया है। साथ ही महिला ने यह भी बताया है कि उनकी दो बेटियां है, इसलिए सास का कहना है कि वह उनके परिवार को बेटा नहीं दे सकती, इसलिए वह उनके किसी काम की नहीं है।

साथ ही महिला ने यह भी बताया कि सास का यह भी कहना है कि अगर उसे घर में रहना है तो हर महीने 10 हजार रुपये देना होगा। वहीं, इस मामले में हजीरा पुलिस ने महिला की सास, ससुर और जेठ के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है।

जानकारी के अनुसार, मामला हजीरा थाना क्षेत्र के बिरला नगर का है। जहां पीड़ित महिला सुमन, राधौगढ़ गुना में शिक्षा विभाग में सेवारत हैं। सुमन की शादी करीब आठ साल पहले सतीश के साथ हुई थी। इसके बाद उन्हें दो बेटियां हुई। बेटियों के जन्म के बाद से ही उसके सास-ससुर और जेठ उसे प्रताड़ित करने लगे। सास बार-बार ताने मारती है कि तू बेटे को जन्म नहीं दे सकती, इसलिए वह अपने बेटे की दूसरी शादी करा देंगे।

इसके बाद कभी-कभी तो नौबत यहां तक आ जाती है कि ससुराली जन उसके साथ मारपीट भी करते हैं। वहीं, महिला ने बताया कि जब उसके पति उसे उन लोगों से बचाते हैं, तो सास उसे भी घर से निकल देने की धमकी देती हैं

महिला ने शिकायत में आगे बताया कि उनकी सास कहती हैं कि तुम तो कमाती हो या तो बेटे को जन्म दो नहीं तो हर महीने हमें 10 हजार रुपये दो। तभी इस घर में रह पाओगी। ऐसे में कुछ दिन पहले ही ससुराल वालों ने उसके सारे गहने उतरवा लिए और उसे घर से निकाल दिया है।

अब इस समय पीड़िता अपनी दोनों बेटियों के साथ मायके में रह रही है। इसी कड़ी में पीड़िता ने हजीरा थाना आकर मामले की शिकायत की। इस पर पुलिस ने सास-ससुर और जेठ पर मामला दर्ज कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *