सिंधिया ने शाही परम्परानुसार कोटेश्वर महादेव पर की पूजा-अर्चना

ग्वालियर/आज महाशिवरात्रि पर पूरा शहर शिवमय नजर आ रहा है। शिव की भक्ति की धुन में सुबह से हर तरफ बच्चे, बूढ़े और जवान ललाट पर चंदन का लेप लगाए नजर आ रहे हैं। शिव मंदिराें में सुबह से भक्ताें की कतार लगी हुई है, शिवालय बम-बम भाेले के जयकाराें से गूंज रहे हैं। लाेगाें ने श्रद्धालुआें काे प्रसादी वितरण करने के लिए जगह-जगह फलाहार एवं शीतल पेय पदार्थाें के स्टॉल लगाए हैं। जहां प्रसाद लेने वालाें की भीड़ उमड़ रही है। अचलेश्वर महादेव मंदिर, गुप्तेश्वर मंदिर, हजारेश्वर महादेव मंदिर सहित अन्य मंदिराें पर सुबह चार बजे बजे से श्रद्धालुआें का दर्शनाें के लिए पहुंचना शुरू हाे गया था। महाशिवरात्रि पर प्रमुख शिव मंदिर अचेलश्वर, गुप्तेश्वर और कोटेश्वर महादेव समेत हजारेश्वर और भूतेश्वर पर सुबह 6 बजे श्रद्धालुओं का पहुंचना शुरू हो गया था। दोपहर 12.30 बजे राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया कोटेश्वर महादेव मंदिर पहुंचे और पूजा अर्चना की। यहां उन्होंने कहा कि भगवान से बड़ा कोई नहीं है।

कोटेश्वर महादेव पर रात 12 बजे से शिवभक्त पहुंचना शुरू हो गए थे। कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए इस बार अंदर प्रसाद के काउंटर नहीं लगाए गए। मंदिर में दर्शन के लिए सुबह 6 बजे से शहर के लोग मंदिर पहुंचे हैं। मंदिर के बाहर कतार लगी हैं। दोपहर 12 बजे यहां राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया पहुंचे और पूजा अर्चना की/गुप्तेश्वर मंदिर से गुरुवार दोपहर 12 बजे शिव बारात भी निकाली गई। महाशिवरात्रि पर गुप्तेश्वर सेवा संघ द्वारा निकाली जाने वाली शिव बारात गुप्तेश्वर मंदिर से निकलकर जनकगंज, महाराज बाड़ा, सराफा बाजार, ऊंटपुल, इंदरगंज चौराहे से होती हुई अचलेश्वर मंदिर पहुंची। रास्ते में कई जगह बारात का स्वागत किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *