मुकेश अंबानी के रिलायंस की राह पर टाटा! अलग कंपनी बनाने के प्लान को मिली मंजूरी

मुकेश अंबानी के रिलायंस इंडस्ट्रीज की तर्ज पर टाटा मोटर्स ने भी अलग कंपनी बनाने का ऐलान किया है। हालांकि, दोनों ही कंपनियां अलग-अलग सेक्टर में सक्रिय हैं। टाटा मोटर्स भारत की दिग्गज वाहन निर्माता कंपनी है। वहीं, मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज मुख्यतौर पर गैस और पेट्रोलियम कारोबार में सक्रिय है।

आपको बता दें कि बीते दिनों रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने तेल-से-रसायन कारोबार के पूर्ण स्वामित्व वाली इकाई में डिमर्जर की रूपरेखा का ऐलान किया था। अब टाटा मोटर्स के शेयरधारकों ने यात्री वाहन कारोबार को अलग करने की योजना को मंजूरी दी है। कंपनी के शेयरधारकों ने पांच मार्च को यात्री वाहन कारोबार को टीएमएल बिजनेस एनालिटिक्स सर्विसेज लि. को स्थानांतरित करने पर विचार करने और उसे मंजूरी देने के पक्ष में मतदान किया।

कंपनी ने कहा था कि उसका यात्री वाहन कारोबार 9,417 करोड़ रुपये का है। शेयर बाजार को दी सूचना में टाटा मोटर्स ने कहा कि कुल 2,15,41,38,392 वोटों में से 2,15,32,39,294 प्रस्ताव के पक्ष में जबकि 899,098 वोट खिलाफ में पड़े। प्रस्ताव के पक्ष में पड़े वोट कुल वोट का 99.958 प्रतिशत है।

कंपनी प्रबंधन के अनुसार घरेलू यात्री वाहन कारोबार को अलग करने का काम इस साल मई-जून तक पूरा होने का अनुमान है। हालांकि उसने कारोबार के लिये संभावित भागीदारी के बारे में अबतक कोई निर्णय नहीं किया है।

पिछले साल टाटा मोटर्स ने घोषणा की थी कि वह घरेलू यात्री वाहन इकाई को अलग इकाई में तब्दील करेगी और इकाई की दीर्घकालीन स्तर पर व्यवहारिक बनाये रखने के लिये रणनीतिक भागीदार तलाशेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *