चार युवकों के साथ घर से भागी थी लड़की, तय नहीं कर पा रही थी किससे शादी करे; पर्ची डालकर हुआ फैसला

यूपी के अंबेडकरनग नगर के टांडा इलाके में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर सबके होश उड़े हुए हैं. यहां एक लड़की की शादी के लिए दूल्हा चुनने की खातिर पंचायत बैठी और पंचों को पर्ची डालकर फैसला करना पड़ा. ये लड़की चार लड़कों के साथ घर से भाग गयी थी और लड़की खुद भी ये तय नहीं कर पा रही थी कि उसे कौन सा लड़का ज्यादा पसंद है, या उसे किस से शादी करनी है.

कोतवाली टांडा के अजीमनगर थाना इलाके में इस समस्या को हल करने के लिए बाकायदा पंचायत बैठी और पर्ची डालकर फैसला किया गया. ये चार युवक पांच दिन पहले इस लड़की को घर से भागकर ले गए थे. आरोपियों ने दो दिन तो युवती को अपनी रिश्तेदारी में छुपा कर रखा लेकिन छानबीन में वे लोग पकड़े गए. युवती के परिजन आरोपियों के खिलाफ मुकदमे की तैयारी करने लगे लेकिन पंचायत ने शादी करने का प्रस्ताव रख दिया. जब लड़की से पूछा गया तो वो ये तय नहीं कर पा रही थी कि आखिर वह किसे अपना जीवन साथी चुने

लड़के भी नहीं थे तैयार

बता दें कि लड़की को भगा ले जाने वाल कोई भी युवक उससे शादी के लिए तैयार नहीं था. मामले का कोई हल न निकलने पर पंचों ने तीन दिन तक बंद कमरे में इस बात पर चर्चा की कि आखिर अब क्या किया जा सकता है. काफी सोच-विमर्श के बाद पंचायत ने तय किया कि अब लड़की से शादी कौन करेगा इसका फैसला पर्ची डालकर ही किया जा सकता है.

ऐसे हुआ फैसला

इसके बाद चारों युवकों के नाम की पर्ची डाली गई और जो नाम निकला उसी पर समझौता हो गया. पंचायत के दौरान चारों युवकों के नाम पर्ची पर लिखने के बाद उसे कटोरी में रख दिया गया. इस दौरान पंचों ने एक छोटे बच्चे से एक पर्ची को उठाने कहा. बच्चे के पर्ची उठाते ही तीन दिन से चल रहा विवाद सुलझ गया और युवती की शादी उसी युवक के साथ तय हो गई जिसका नाम पर्ची में निकला.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *