शिवराज कैबिनेट ने बजट को दी मंजूरी, पत्नी ने आरती उतार वित्त मंत्री को सदन के लिए किया रवाना

भोपाल । सीएम शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में विधानसभा में कैबिनेट की बैठक हुई, जिसमें बजट को मंजूरी मिल गई। वित्तमंत्री जगदीश देवड़ा अब इसे सदन में प्रस्तुत करने जा रहे हैं। विधानसभा रवान होने से पहले मंत्री की पत्नी ने उनकी आरती उतारी। मंत्री ने कहा कि यह प्रदेश की जनता के हित का बजट होगा, कोरोना संकट के बावजूद यह सर्वसमाज के हित में होगा। इस बजट में कोई नया कर नहीं लगा है और जो कर लगा है ना ही उसमें कोई बढ़ोतरी कर रहे हैं। वित्तमंत्री जगदीश देवड़ा आइ-पैड के माध्यम से बजट भाषण पढ़ेंगे। विधायकों को भाषण की प्रति उपलब्ध कराई जाएगी।

कोरोनाकाल से प्रभावित अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत जो कार्यक्रम तय किए गए हैं, उनके लिए विभागीय योजनाओं में प्रविधान बढ़ाए जाएंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सत्ता संभालने के बाद संबल योजना को फिर प्रारंभ किया और मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना के तहत लैपटाप वितरण कराया। बजट में इन दोनों योजनाओं के लिए वित्तीय प्रविधान होंगे।

वहीं, कांग्रेस सरकार ने तीर्थदर्शन योजना का बजट काफी घटा दिया था, इसे फिर से पुराना स्वरूप दिया जाएगा। रोजगार के अवसर तलाशने के लिए स्वरोजगार पर जोर रहेगा। इसके लिए मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के प्रविधानों में बदलाव भी किया जा रहा है। खाद्य प्रसंस्करण के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने के जतन होंगे। कृषक उत्पादक संगठन और कस्टम हायरिंग सेंटर का विस्तार भी प्रस्तावित है।

सहकारी समितियों के माध्यम से प्रसंस्करण केंद्रों की स्थापना के लिए ऋण दिलाया जाएगा। किसान सम्मान निधि, शून्य प्रतिशत ब्याज पर कृषि ऋण, फसल बीमा के लिए राजस्व, कृषि और सहकारिता विभाग को पर्याप्त बजट मिलेगा। आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए उद्योग विकास पर जोर दिया जाएगा। नए औद्योगिक केंद्रों का विकास, एक्सप्रेस वे के आसपास नए केंद्र विकसित करने के साथ निश्चित समयसीमा में सभी प्रकार की अनुमतियां दिलाई जाएंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *