करोड़ों कमाने का लालच देकर लड़कियों से निर्वस्त्र पूजा करवाने वाला पकड़ाया 

नागपुर। पुलिस ने  ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो कम उम्र की लड़कियों को पैसे कमाने का लालच देता था। 16 से 18 वर्ष की लड़कियों को जाल में फांसते थे। उन्हें जादू-टोना के बहाने शहर से दूर ले जाते थे। इसके बाद निर्वस्त्र करके उनके साथ पूजा-पाठ करने के लिए राजी करते थे। गिरोह से जुड़े नागपुर के युवक ने 16 वर्षीय किशोरी से मेल-जोल बढ़ाकर 5 करोड़ रुपए मिलने का लालच दिया। किशोरी उसके इरादे को भांप गई और पोल खुल गई। पुलिस ने विक्की गणेश खापरे (20), वृंदावन नगर, नागपुर, दिनेश महादेव निखारे (25) कोरा समुद्रपुर, रामकृष्ण दादाजी म्हसकर (41), दसोड़ा, समुद्रपुर (वर्धा), विनोद जयराम मसराम (42) जांभुलघाट, चिमूर (चंद्रपुर) और मुख्य आरोपी डीआर उर्फ सोपान हरिभाऊ कुमरे (35), खापरी, चिमूर निवासी को गिरफ्तार किया है। उधर, तांत्रिक भी गिरफ्तार कर लिया गया है। सभी को लकड़गंज पुलिस के हवाले कर दिया गया है। रविवार को इनको न्यायालय में पेश किया गया। दो दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा गया। 


ऐसे खुली पोल
पुलिस सूत्रों के अनुसार, 26 फरवरी को सुबह करीब 10 बजे एक किशोरी अपराध शाखा पुलिस विभाग के उपायुक्त गजानन राजमाने को आपबीती सुनाई। वह नागपुर में अपनी नानी के घर रहती है। किशोरी के अनुसार, सहेली के माध्यम से विक्की से उसकी पहचान हुई। विक्की ने मेल-जोल बढ़ाया और पैसे कमाने का लालच दिया। उसने डीआर (सोपान) के बारे में बताया। कहा कि डीआर जादू-टोना कर पैसों की बारिश करता है। उसने कहा- उसे जादू-टोना की 3 प्रक्रिया पार करनी होगी। एक कमरे में भेजा जाएगा। वहां विक्की, दिनेश, रामकृष्ण और विनोद भी रहेंगे। डीआर 50 करोड़ रुपए के नोटों की बारिश करेगा। उसमें से 5 करोड़ तुझे मिलेंगे।

विशेष टीम बनाई
विक्की के इरादे ठीक नहीं थे, वह दूसरी किशोरियों के भी संपर्क में था। पुलिस ने एक टीम बनाई। पुलिस ने किशोरी से कहा कि वह विक्की को फोन कर अपने घर पर बुलाए। विक्की के आते ही उसे पकड़ लिया गया। विक्की के दोस्त दिनेश निखारे को भी पकड़ा गया। उसने कहा कि डीआर के गांव के रामकृष्ण म्हसकर उसे डीआर से मिलानेवाला था।  निशानदेही पर रामकृष्ण को पकड़ा गया। किशोरी को लेकर यह सभी आरोपी, विनोद मसराम से चिमूर में मिलनेवाले थे। विनोद किशोरी के साथ डीआर से मुलाकात करानेवाला था।

25 से अधिक लड़कियों की नग्न तस्वीरें
पुलिस दल चिमूर रवाना हुआ। वहां सरकारी अस्पताल के पास विनोद मसराम को धर-दबोचा। विनोद की निशानदेही परखेत के अंदर बने कमरे में पूजा की तैयारी में लगे मुख्य आरोपी डीआर ऊर्फ सोपान कुमरे को भी पकड़ा गया। डीआर कहता था कि उसके पास महाकाली की शक्ति है। वह लड़कियों की निर्वस्त्र पूजा करवाकर पैसों की बारिश करने का लालच देता था। उसके मोबाइल में 25 से अधिक किशोरी की निर्वस्त्र तस्वीरें मिली हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *