पाेर्टल में आई दिक्कत, जेएएच में देरी से शुरू हुआ वैक्सीनेशन, जिला अस्पताल में आफलाइन पंजीयन कर लगाई वैक्सीन…

ग्वालियर, । जिले में आज से साठ साल से अधिक उम्र के बुजुर्गाें एवं गंभीर बीमारी से ग्रस्त 45 से 59 वर्ष के लोगाें के वैक्सीनेशन का कार्य शुरू हुआ। दूसरे चरण में जिले के तीन लाख बुजुर्गाें काे काेराेना बचाव के लिए संजीवनी दिए जाने का लक्ष्य रखा गया है। खास बात यह है कि पाेर्टल में बदलाव के कारण जेएएच में सुबह दस बजे तक टीकाकरण का कार्य शुरू नहीं हाे सका। वहीं जिला अस्पताल मुरार में भी पाेर्टल पर दिक्कत आई थी। एेसे में यहां पर अॉफलाइन पंजीयन करके बुजुर्गाें का टीकाकरण किया गया है।

दरअसल वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में फ्रंटलाइन वर्कर, हेल्थ वर्कर, सीनियर सिटीजन एवं गंभीर राेगाें से ग्रस्त राेगियाें का टीकाकरण किया जाना है। इस बार शासन स्तर से पाेर्टल में बदलाव किया गया है। इसमें बुजुर्ग अपनी आइडी लेकर आएंगे आैर केंद्र पर ही पाेर्टल पर डिटेल अपलाेड की जाएगी। नया पाेर्टल हाेने के कारण जेएएच सहित कई केंद्राें पर खासी दिक्कत आई है। जबकि कुछ सेंटर पर ताे इक्का दुक्का बुजुर्ग ही सुबह दस बजे तक पहुंचे थे। जेएएच में नया पाेर्टल पर काम करने में दिक्कत आने के कारण सुबह दस बजे तक टीकाकरण का कार्य शुरू नहीं हाे सका था। जिला अस्पताल मुरार में वैक्सीनेशन के लिए काफी संख्या में बुजुर्ग पहुंचे थे, लेकिन पाेर्टल समस्या के चलते वैक्सीनेशन में परेशानी आ रही थी। एेसे में वरिष्ठ अधिकारियाें से चर्चा के बाद यहां पर सीनियर सिटीजन का अॉफलाइन पंजीयन करके बुजुर्गाें काे वैक्सीन लगाई गई है।

तीन लाख बुजुर्गाें काे लगना है वैक्सीनः वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में 60 साल से अधिक उम्र व गंभीर बीमारी से ग्रस्त 45 से 59 वर्ष के लोगाें के वैक्सीनेशन का कार्य शुरू हाे गया है। यह वैक्सीन बुजुर्गाें काे निशुल्क लगाई जा रही है। दूसरे चरण में जिले के तीन लाख बुजुर्गों को कोरोना बचाव के लिए संजीवनी (वैक्सीन) मिलेगी। सरकारी केंद्राें के अलावा शहर के पांच निजी अस्पतालों में भी टीकाकरण होगा, मगर यहां 250 रुपये अदा करने होंगे। चार केंद्रों पर फ्रंटलाइन व स्वास्थ्य कर्मियों को दूसरा डोज देने व्यवस्था की है, जिले में कुल 13 केंद्र बनाए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *