जीआरसी में जवानों और शहीदों को सेना पदक से किया गया सम्मानित, दो जवानों को मरणोपरांत मिला सम्मान

असाधारण बहादुरी और उत्कृष्ट सेवाओं के लिए आज 20 सेना के जवानों को सम्मानित किया गया। दो जवानों को जहां मरणोपरांत ये सम्मान दिया गया।वहीं 18 जवानों को सेना के अधकारियों और उनके अपनों के बीच सेना पदक से सम्मानित किया। सेना की मध्य कमान के आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल आईएस घुमन के हाथों जवानों को ये सम्मान मिला। इस दौरान उनकी बहादुरी और विपरीत परिस्थितियों में दिखाए गए शौर्य के बारे में भी बताया गया।

जानकारी के अनुसार आज सुबह 8.30 बजे छावनी स्थित ग्रेनेडियर्स रेजिमेंटल सेंटर (जीआरसी) के कर्नल होशियार सिंह, पीवीसी परेड ग्राउंड में सम्मान समारोह का आयोजन हुआ। इस समारोह का आयोजन भारतीय सेना के वीर जवानों और वीर शहीदों को सम्मानित करने के लिए किया जाता है। ऐसे जवान जिन्होंने राष्ट्र के लिए असाधारण बहादुरी और उत्कृष्ट सेवा का प्रदर्शन किया है।

इस अवसर पर मध्य कमान के आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल आईएस घुमन, जाबांजों को उनकी शौर्य और वीरता के लिए सेना पदक (वीरता) से अलंकृत किया। लेफ्टिनेंट जनरल आईएस घुमन ने दो मरणोपरांत सेना पदक (वीरता) सहित 20 वीरता पदक प्रदान किया। इसके अतिरिक्त 11 अन्य विशिष्ट सेवाओ के लिए पदक और पेशेवर उत्कृष्टता के लिए 15 सेना इकाइयों को इकाई प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किया। इस मौके पर पुरस्कार पाने वालों जवानों के अलावा सेना के वरिष्ठ अधिकारी, जिले के पूर्व सैनिक उपस्थित थे।लेफ्टिनेंट कर्नल मनोज कुमार भारद्वाज, मेजर विनायक विजय, मेजर आशुतोष तोमर, मेजर निलव सुरेंद्र, मेजर भानु प्रताप सिंह, मेजर अजय कुमार, कैप्टन पीयूष शर्मा, कैप्टन रंजीत कुमार, कैप्टन सिद्धार्थ दास, कैप्टन रमन तिवारी, हवलदार पवन, हवलदार (अब नायब सूबेदार) हरिबीर सिंह, हवलदार (अब नायब सूबेदार) सुनील सिंह, हवलदार लल्तानल्ज़ोवा, लांस हवलदार (अब हवलदार) सुमित सिंह, नायक रवि रंजन सिंह (मरणोपरांत), नायक समय लाल सिंह, नायक सुरेंद्र यादव, सिपाही रोहित कुमार यादव (मरणोपरांत), पैराट्रूपर हरि वियापक ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *