स्कूल हॉस्टलों को खोलने का आदेश, जानें किन नियमों का करना होगा पालन

नई दिल्ली. मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कारण बंद सरकारी और निजी स्कूलों के हॉस्टलों को खोलने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. यह आदेश स्कूल शिक्षा विभाग के उप सचिव प्रमोद सिंह की ओर से 19 फरवरी को जारी किए गए हैं. जारी आदेश में कहा गया है कि शासकीय, अशासकीय आवासीय विद्यालयों के छात्रावासों को कक्षा 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के लिए खोले जाएंगे.

स्कूल छात्रावासों को इन नियमों का करना होगा पालन

जारी आदेश में कहा गया है कि स्कूल हॉस्टलों को कोरोना सुरक्षा को लेकर केंद्र और राज्य सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन का पालन करना होगा. हॉस्टलों में हाथ साफ करने के लिए अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर रखना होगा. साथी ही सभी छात्रों के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु ऐप को इंस्टॉल कराना अनिवार्य किया गया है.

छात्रावासों में राज्य हेल्पलाइन नंबर और स्थानीय अस्पतालों के फोन नंबर को चस्पा करना होगा. फर्श की नियमित सफाई के साथ परिसर को रोजाना सैनिटाइज कराना होगा. साथ ही  आदेश में यह भी कहा गया है कि छात्रों के सुरक्षा व स्वास्थ्य की जिम्मेदारी स्कूल और हॉस्टल संचालक की होगी.

अभिभावकों की अनुमति जरूरी

छात्रावास में प्रवेश के लिए विद्यार्थी को अपने अभिभावक से लिखित में अनुमति लेनी होगी. बिना अभिभावक के लिखित अनुमति के छात्रों को हॉस्टल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा. छात्रावासों में विद्यार्थियों की उपस्थिति अनिवार्य नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *