प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाबाहु-ब्रह्मपुत्र प्रोजेक्ट की शुरुआत की, 680 किमी की दूरी घटकर 43 किमी रह जाएगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कई सौगातें दीं। उन्होंने महाबाहु-ब्रह्मपुत्र प्रोजेक्ट की शुरुआत की। इस प्रोजेक्ट के तहत नीमाटी-माजुली द्वीप, उत्तरी गुवाहाटी-दक्षिण गुवाहाटी और धुबरी-हाटसिंगिमारी के बीच रो-पैक्स पोत चल सकेगा। अभी रोड के जरिए इन इलाकों की दूरी तय करने के लिए करीब 680 किलोमीटर सफर करना पड़ता है। इस प्रोजेक्ट के शुरू होने से ये दूरी घटकर महज 43 किलोमीटर रह जाएगी।

‘महाबाहु-ब्रह्मपुत्र’ प्रोजेक्ट से असम को क्या फायदा होगा ?

नेमाटी और माजुली के बीच करीब 420 किलोमीटर की दूरी कम होकर केवल 12 किलोमीटर रह जाएगी।उत्तर और दक्षिण गुवाहाटी के बीच लगभग 40 किलोमीटर की दूरी घटकर केवल 3 किलोमीटर रह जाएगी।धुबरी और हाटसिंगीमारी के बीच एमवी बॉब खातिंग तक 220 किलोमीटर की दूरी कम होकर 28 किलोमीटर ही रह जाएगी।यहां के लघु उद्योगों को भी काफी फायदा मिलेगा। कम समय में वह अपने माल एक से दूसरी जगह तक पहुंचा सकेंगे।

मोदी ने इन प्रोजेक्ट्स की नींव रखी

धुबरी फूलबाड़ी ब्रिजमाजुली पुल के निर्माण के लिए भूमिपूजन कियाजोगीघोपा में इंटरनेशनल वॉटर ट्रांसपोर्टेशन (IWT) टर्मिनल का शिलान्यासब्रह्मपुत्र नदी पर कई तरह के टूरिज्म पॉइंट्स की शुरुआतईज ऑफ डूइंग-बिजनेस के लिए डिजिटल प्रॉब्लम सॉल्विंग सिस्टम का शुभारंभ

इसी साल असम में होने हैं चुनाव
असम में इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में केंद्र की भाजपा सरकार ने पूरी ताकत लगा दी है। असम में भी अभी भाजपा की सरकार ही है। ऐसे में पार्टी की पूरी कोशिश है कि इस बार भी ये जीत बरकरार रहे। यही कारण है कि पिछले 10 के अंदर प्रधानमंत्री दूसरी बार असम की जनता को संबोधित करेंगे। इसके पहले उन्होंने 7 फरवरी को असम में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत की थी। असम के अलावा इस साल पश्चिम बंगाल, पुडुचेरी, तमिलनाडु और केरल में भी विधानसभा चुनाव होने हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *